kovind

नयी दिल्ली. राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद ने शनिवार को दशहरे की पूर्व संध्या पर देश के नागरिकों को शुभकामनाएं देते हुए कहा कि यह त्योहार कोविड-19 महामारी के बुरे प्रभावों से सभी की रक्षा करे और देशवासियों के लिए समृद्धि लाए। कोविंद ने कहा कि यह त्योहार बुराई पर अच्छाई की जीत का प्रतीक है।

उन्होंने कहा, “यह त्योहार पूरे भारत में अलग-अलग रूपों में मनाया जाता है। यह त्योहार भारत की सांस्कृतिक एकता को मजबूत करता है और हमें सद्भाव के साथ रहने तथा बुराई का त्याग करके सदाचार के मार्ग पर चलने के लिए प्रेरित करता है।”

कोविंद ने कहा कि यह त्योहार मर्यादा पुरुषोत्तम श्रीराम के जीवन एवं मूल्यों से भी जुड़ा हुआ है। उन्होंने कहा, “उनका जीवन नैतिकता और नीतिपरायणता का शानदार उदाहरण है।”

उन्होंने कहा कि आनंद और खुशी का यह त्योहार महामारी के बुरे प्रभावों से बचाये और देशवासियों के लिए समृद्धि और सम्पन्नता लाये। राष्ट्रपति भवन की ओर से जारी एक बयान के अनुसार, राष्ट्रपति ने कहा, “दशहरे के पावन अवसर पर, मैं भारत और विदेशों में सभी नागरिकों को हार्दिक बधाई और शुभकामनाएं देता हूं।”