Sachin Pilot

नई दिल्ली: राजस्थान के पूर्व उप मुख्यमंत्री सचिन पायलट ने सोमवार को कांग्रेस नेता राहुलगांधी और प्रियंका गाँधी से दिल्ली में मुलाकात की. दोनों नेताओं के बीच हुई मुलाकात को लेकर कांग्रेस ने बयान जारी किया है. पार्टी के संगठन महमंत्री के सी वेणुगोपाल ने कहा, “सचिन पायलट ने पूर्व कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी से मुलाकात की और विस्तार से अपनी शिकायतें व्यक्त कीं. उनकी स्पष्ट, खुली और निर्णायक चर्चा हुई. सचिन पायलट ने राजस्थान में कांग्रेस पार्टी और कांग्रेस सरकार के हित में काम करने के लिए प्रतिबद्ध किया है.” 

शिकायत के लिए समिति 
वेणुगोपाल ने कहा, “बैठक के बाद, कांग्रेस अध्यक्ष सोनिया गांधी ने निर्णय लिया है कि आल इंडिया कांग्रेस कमेटी सचिन पायलट और बागी विधायकों द्वारा उठाए गए मुद्दों को हल करने के लिए एक तीन सदस्यीय समिति का गठन करेगी और उसके बाद एक उचित निर्णय पर पहुँचेगी.”

दो घंटे तक चली मुलाकात 
सचिन पायलट और रहुअल गाँधी के बीच करीब 2 घंटे तक बैठक चली. जिसमें पायलट ने अपने नाराज़गी को लेकर हर एक बात सामने रखी. सूत्रों से मिली जानकरी के गाँधी के सामने सचिन ने सुलह के लिए दो शर्तें रखी. जिसमें भविष्य में उन्हें मुख्यमंत्री बनाया जाए, साथ में प्रदेश अध्यक्ष का पद भी उनके पास रखा जाए. दूसरी शर्त में पायलट ने अपने समर्थक विधायकों में से एक को उपमुख्यमंत्री बनाने की मांग की साथ में कई को कैबिनेट मंत्री भी बनाया जाए. 

सरकार पर कोई ख़तरा नहीं 
मुख्यमंत्री अशोक गहलोत से मुलाकात के बाद मीडिया से बातचीत में पायलट समर्थक विधायक भंवरलाल शर्मा ने कहा कि, “गहलोत सरकार सेफ है और बहुमत में है.पार्टी अब जनता से किए वादों को पूरा करेगी.”