CORONA
File Photo

     नयी दिल्ली. देश (India) में फिलहाल कोरोना (Corona) की दूसरी लहर का कहर भयंकर रूप से जारी है। वहीं एक-दो दिन की कमी के बाद आज यानी गुरुवार को बीते 24 घंटों में एक बार फिर देश में इस घटक संक्रमण के नए मामले 3.5 लाख के बेंचमार्क को भी अब पार कर गए हैं। जी हाँ भारत में एक बार फिर से बीते 24 घंटे में कोरोना के3।62 लाख से अधिक केस आए हैं। इसी दौरान इस संक्रमण से  से 4126 लोगों की मौतें भी हुई हैं। हालांकि, कल की तुलना में आज मौत का आंकड़ा थोड़ा कम जरुर हुआ है। मगर एक बार फिर नए केस में काफी इजाफा देखने को मिल रहा है।

    क्या कहते हैं आंकडें :

    अगर हम स्वास्थ्य मंत्रालय के आंकड़ों को देखें तो, बीते 24 घंटों में कोरोना वायरस के 362,406 नए केस मिले, जबकि इसी दौरान 4,126 लोगों की मौत भी हुई है। वहीं देश में फिलहाल 3704099 से अधिक एक्टिव केस हैं, इसके साथ 19382642 लोग रिकवर होकर डिस्चार्ज हो चुके हैं। गौर करें तो अभी भारत में जितने कोरोना केस और मौतें हो रही हैं, उसके सामने अमेरिका-ब्राजील जैसे देश फिलहाल काफी पीछे हैं। यानी भारत में अभी सबसे अधिक लोगों की मौतें हो रही हैं और अब नए केस भी मिल रहे हैं। वहीं  देश में सबसे अधिक मामले फिलहाल महाराष्ट्र से ही आ रहे हैं।

    इन राज्यों में हो रही सर्वाधिक मौतें:

    भारत अब नए मामलों में अव्वल:

    अगर गौर करें तो मौजूदा आंकड़े इस तरफ इशारा कर रहे हैं कि मौजूदा समय में कुल संक्रमण और मौतों के मामले में भारत अब सबसे ऊपर आ गया है। दूसरे देशों के मुकाबले अब भारत में मामले करीब 15 गुना अधिक हैं। संक्रमण के मामले में फिलहाल ब्राजील  दूसरे नंबर पर है और बीते 24 घंटे में यहां कुल 25,200 मामले सामने आए हैं। वहीं तीसरे नंबर पर अमेरिका है जहां 22,261 केस दर्ज किए गए। फ्रांस और ईरान में भी करीब 18000 मामले सामने आए हैं। 

    क्या है महाराष्ट्र के हाल: 

    अगर महाराष्ट्र की बात करें तो यहाँ कोरोना का प्रकोप फिर से हावी हो गया है। अब राज्य में लॉकडाउन के बीच पिछले 24 घंटे के भीतर कोरोना के 46,781 नए मामले सामने आए और 816 मौतें हुई हैं। स्वास्थ्य विभागने यह जानकारी दी है। विभाग ने कहा कि राज्य में संक्रमण के कुल मामले बढ़कर 52,26,710 हो गए, जबकि मृतकों की संख्या बढ़कर 78,007 हो गए। 

    गोरतलब है कि महाराष्ट्र में बीते मंगलवार को कोरोना के 40,956 मामले आए, 793 मौतें हुईं और 71,966 मरीज ठीक हुए। राज्य में 58,805 रोगियों को ठीक होने के बाद छुट्टी दे दी गई, जिससे अब तक ठीक हो चुके लोगों की संख्या बढ़कर 46,00,196 हो गई। बता दें कि महाराष्ट्र सरकार द्वारा महसुस किये जा रहे टीके की किल्लत के चलते अब 18+समूह का टीकाकरण अभियान रोकने और टीके के भंडार का उपयोग 45 से अधिक आयु वर्ग के लिए करने का निर्णय किए जाने की घोषणा BMC ने की है।