”श्रीराम जन्मभूमि तीर्थ क्षेत्र” गठन पर उद्धव ठाकरे ने नरेंद्र मोदी को दी बधाई

मुंबई, प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी द्वारा कल लोकसभा में ''श्रीराम जन्मभूमि तीर्थ क्षेत्र'' की घोषणा के बाद महाराष्ट्र के मुख्यमंत्री उद्धव ठाकरे ने उनके कदम पर ख़ुशी जाहिर की है। विदित हो कि कल

मुंबई, प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी द्वारा कल लोकसभा में ‘श्रीराम जन्मभूमि तीर्थ क्षेत्र’ की घोषणा के बाद महाराष्ट्र के मुख्यमंत्री उद्धव ठाकरे ने उनके कदम पर ख़ुशी जाहिर की है। विदित हो कि कल प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने लोकसभा में घोषणा करते हुए कहा था कि ‘‘श्रीराम जन्मभूमि तीर्थ क्षेत्र’ के गठन के प्रस्ताव को मंजूरी दी गई है और यह ट्रस्ट अयोध्या में भगवान राम के मंदिर के निर्माण और उससे संबंधित विषयों पर निर्णय के लिए पूर्ण रूप से स्वतंत्र होगा। उन्होंने यह भी कहा था कि उच्चतम न्यायालय के निर्देशानुसार उत्तर प्रदेश मंत्रिमंडल ने अयोध्या में सुन्नी सेंट्रल वक्फ बोर्ड को पांच एकड़ जमीन देने के निर्णय को बुधवार को मंजूरी दी है।

वहीं इस खबर पर संजय राउत ने कल अपना वक्तव्य देते हुए कहा था कि प्रधानमंत्री मोदी की इस घोषणा का हम स्वागत करते हैं और में अपने और अपने राज्य के मुख्यमंत्री की तरफ से उनकी घोषणा का स्वागत करता हूँ।जाते-जाते वह यह भी कह गए कि वैसे तो यह की राम मंदिर निर्माण का निर्णय सर्वोच्च न्यायालय द्वारा दिया गया था और इसके निर्णय का सम्मान करना सरकार की जिम्मेदारी भी बनती है। इसके साथ ही मनसे प्रमुख राज ठाकरे ने भी ट्वीट करते हुए लिखा था कि "केंद्रीय मंत्रिमंडल की बैठक ने आज ‘श्रीराम जन्मभूमि तीर्थक्षेत्र’ ट्रस्ट की स्थापना को मंजूरी दे दी है । इस फैसले से अयोध्या में राम मंदिर के निर्माण में तेजी आने की उम्मीद है"।

प्रधानमंत्री के ‘श्रीराम जन्मभूमि तीर्थ क्षेत्र’ की घोषणा पर महाराष्ट्र के मुख्यमंत्री उद्धव ठाकरे ने भी खुशी जताते हुए कहा कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी का ट्रस्ट गठन पर सादर आभार है और साथ ही उन्होंने यह भी कहा है कि राम मंदिर पर अब तक किसी ने भी इस प्रकार का साहस नहीं दिखाया है। आपको बता दें कि उद्धव ठाकरे 7 मार्च को अयोध्या जाने वाले हैं। उन्होंने कहा कि "मैंने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी को अपनी बधाई दी है। जहां कोई राम मंदिर पर निर्णय लेने के लिए हिम्मत तक नहीं जुटा रहा था, उन्होंने निर्णय करने का सहस दिखलाया। वैसे भी सुप्रीम कोर्ट का आदेश सबके लिए बाध्यकारी है। मैं प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी का आभारी हूं कि उन्होंने राम मंदिर निर्माण के लिए जमीनआवंटित की और मैं स्वयं भी 7 मार्च को अयोध्या जाऊंगा।"