corona

नयी दिल्ली. जहाँ भारत (India) में नए कोरोना स्ट्रेन (Corona Strain) ने दस्तक दे दी है। वहीं मिली खबर के अनुसार यूनाइटेड किंगडम (United Kingdom ) से लौटे अब तक 20 यात्रियों में  यह कोरोना का नया स्ट्रेन पाया गया है। गौरतलब है कि बीते मंगलवार को ही देश के अलग-अलग हिस्सों से 6 ऐसे ही मामले पाए गए थे। 

बता दें कि ब्रिटेन में कोरोना वायरस के नए स्ट्रेन ने वैसे ही तबाही मचाये हुए है। जिसके बाद भारत ने UK से आने वाली सभी फ्लाइट पर रोक लगा रखी है। लेकिन बीते कुछ समय से UK सरे जितने भी लोग वापस आये हैं, उनकी भी व्यापक जांच हो रही है। इनमे से जो लोग भी कोरोना पॉजिटिव पाए जा रहे हैं, उनकी जीनोम स्किवेंसिंग करके कोरोना के नए स्ट्रेन का अब पता लगाया जा रहा है।

विदित हो कि बीते मंगलवार को ही उत्तर प्रदेश के मेरठ में 2 साल की बच्ची में कोरोना वायरस का नया स्ट्रेन मिला था। बच्ची का परिवार हाल ही में ब्रिटेन से लौटा था, जिसके बाद बच्ची समेत उसके माता-पिता भी कोरोना पॉजिटिव पाए गए थे। हालांकि, नया स्ट्रेन सिर्फ इस दो साल की बच्ची में ही मिला है।

बता दें की मंगलवार को भारत सरकार (GOI) की ओर से जानकारी दी गई थी । इसमें बताया गया था कि यूनाइटेड किंगडम (United Kingdom) से लौटे 6 लोगों में यह नया स्ट्रेन मिला है। इनमें से तीन बेंगलुरु, 2 हैदराबाद और एक पुणे की लैब के सैंपल में नया कोरोना स्ट्रेन मिला है। इस नए कोरोना स्ट्रेन की शुरुआत ब्रिटेन से हुई है और यह मौजूदा वायरस से सत्तर फीसदी अधिक विनाशकारी है।  

गौरतलब है कि इस मुद्दे पर बीते मंगलवार को ही स्वास्थ्य मंत्रालय द्वारा आश्वासन दिया गया है कि, आने वाली कोरोना वैक्सीन इस स्ट्रेन पर भी कारगर है, ऐसे में लोगों को घबराने की बिल्कुल जरूरत नहीं है। बता दें कि पिछले एक महीने में यूनाइटेड किंगडम (UK) से करीब 30 हजार लोग लौटे हैं। इनमे से सौ से अधिक कोरोना संक्रमित पाए गए हैं। फिलहाल इन सभी को सभी को आइसोलेशन में रख जीरोम स्किवेंसिंग की जा रही है।