drone
File Pic

    सांबा/जम्मू. जम्मू (Jammu) और उसके आसपास के सीमा से सटे इलाकों में अब बार बार ड्रोन (Drone) देखें जा रहे हैं। ऐसे में इन घटनाओं के चलते अब राष्ट्रीय सुरक्षा को लेकर अब बड़े सवाल खड़े हो रहे हैं । जो अहम् सवाल है वह यह है कि ऐसा कौन है जो ड्रोन के जरिए भारत पर हमला करने की ‘नापाक’ तैयारी कर रहा है। 

    जी हाँ जम्मू काश्मीर में बीते शुक्रवार देर रात और सहनिवार के अलसुबह एक बाऱ फिर सांबा और अखनूर सेक्टर में कुल चार जगहों पर फिर से ड्रोन देखे गए। वहीं जब बीएसएफ के जवानों ने ड्रोन पर फायरिंग की तो ये ड्रोन लापता हो गए। ड्रोन दिखने के बाद आसपास के इलाके में इनके लिए सर्च ऑपरेशन तेज कर दिया गया है।

    इसके साथ ही सुरक्षा एजेंसियां ये पता लगाने की कोशिश कर रही हैं कि ड्रोन के आने का असल मकसद असली में क्या था। कुछ लोगों ने जब आसमान में इन टिमटिमाती रोशनी को देखा तो उनके होश फाख्ता हो गए, पहले तो सभी ने इसे कोई हेलिकॉप्टर समझा। लेकिन जब आवाज हेलिकॉप्टर जैसी नहीं थी तो उन्हें समझते देर नहीं लगी कि ये पाकिस्तान की साजिश वाला ही कोई ड्रोन है।

    दरअसल जम्मू-कश्मीर के सीमावर्ती गांवों में कुछ ड्रोन (Drone) दिखाई दिए हैं। बीती शुक्रवार-शनिवार के देर रात रात सांबा (Samba Sector) जिले में रात के अंधेरे में तीन अलग-अलग जगहों पर संदिग्ध पाकिस्तानी ड्रोन मंडराते देखे गए। हालांकि, सुरक्षाबलों ने इन पर ताबड़तोड़ फायरिंग की। जिसके बाद ये ड्रोन डरकर वापस अपने घर पाक की तरफ लौट गए। फिलहाल मामले की तफ्तीश जारी है। लेकिन अब इन सब घटनाओं से क्या ये चीज साफ़ हो रही है कि क्या इन छोटे-छोटे ड्रोन भेजकर क्या पाकिस्तान कोई नयी साजिश को मुकामल करने के फिराक में है। सवाल का फिलहाल जवाब मिलने का इन्तजार है।