Mehbooba Mufta's love for Taliban, said- Afghanistan's government should follow Sharia law
File Pic

    श्रीनगर: पीपुल्स डेमोक्रेटिक पार्टी (पीडीपी) की अध्यक्ष महबूबा मुफ्ती (PDP Chief Mehbooba Mufti) ने शुक्रवार को केंद्र पर उनकी पार्टी को तोड़ने का आरोप लगाया। उन्होंने कहा कि केंद्र सरकार पीडीपी के नेताओं को लालच और धमकी देकर पार्टी को तोड़ने का प्रयास कर रही है। मुफ्ती के बयान से एक दिन पहले प्रवर्तन निदेशालय ने धन शोधन के एक मामले के संबंध में उनसे श्रीनगर स्थित कार्यालय में पांच घंटे तक पूछताछ की थी।   

    जम्मू कश्मीर की पूर्व मुख्यमंत्री ने ट्वीट किया, “भारत सरकार पीडीपी के सदस्यों को लालच और धमकी देकर पार्टी को तोड़ने का प्रयास कर रही है। ईडी जैसी जांच एजेंसियों के इस्तेमाल से मुझे डराने का प्रयास किया जा रहा है।”सरकार पर राजनीतिक प्रतिशोध की भावना से काम करने का आरोप लगाते हुए मुफ्ती ने कहा, “मुझे मेरे पासपोर्ट के मौलिक अधिकार से भी वंचित किया जा रहा है। यह राजनीतिक प्रतिशोध नहीं है तो क्या है?

    ईडी द्वारा पूछताछ किए जाने के बाद मुफ्ती ने संवाददाताओं से कहा था कि देश में असहमति को अपराध घोषित किया जा रहा है और विपक्ष की आवाज बंद करने के लिए एनआईए, सीबीआई तथा ईडी जैसी केंद्रीय एजेंसियों का इस्तेमाल किया जा रहा है।