Indian army
File Pic

    श्रीनगर. आतंकवादी संगठन लश्कर-ए-तैयबा का कमांडर उमर मुश्ताक खांडे (Umar Mushataq Khande) जम्मू-कश्मीर (Jammu-Kashmir) के पुलवामा (Pulwama) जिले के पंपोर इलाके में सुरक्षा बलों के साथ मुठभेड़ में फंस गया है। पुलिस के एक वरिष्ठ अधिकारी ने शनिवार को यह जानकारी दी।

    खांडे उन आतंकवादियों में शामिल है, जिन्हें इस साल अगस्त में पुलिस द्वारा एक हिटलिस्ट जारी किए जाने के बाद से सुरक्षा बल निशाना बना रहे हैं। पुलिस महानिरीक्षक (कश्मीर) विजय कुमार ने ट्वीट किया कि खांडे इस साल की शुरुआत में श्रीनगर जिले के बघाट में दो पुलिसकर्मियों की हत्या की घटना में कथित रूप से शामिल था।

    उन्होंने ट्वीट किया, ‘‘श्रीनगर के बघाट में दो पुलिसकर्मियों की हत्या और आतंकवाद से जुड़े अन्य अपराधों में शामिल शीर्ष 10 आतंकवादियों में शामिल लश्कर का कमांडर उमर मुस्ताक खांडे पंपोर में फंसा है।”

    मुश्ताक ने साकिब के साथ ही इस हमले को दिया था अंजाम 

    गौरतलब है कि इसी साल फरवरी में मुश्ताक ने साकिब के मिलकर घाटी के पुलिसकर्मियों को निशाना बनाया था। इन आतंकियों ने बाराजुल्ला इलाके के भगत में पुलिस पार्टी पर फायरिंग कर दी थी। वहीं इस भयंकर फायरिंग में 2 पुलिसकर्मी शहीद भी हुए थे। ये दोनों जवान ही जम्मू कश्मीर पुलिस में तैनातथे। वहीं यह आतंकी हमला सीसीटीवी में कैद हो गया था। तब ये आतंकी इस गंभीर वारदात को अंजाम देकर वहां से फरार भी हो गए थे। बता दें कि साकिब मंजूर ‘द रेजिस्टेंस फ्रंट (टीआरएफ) से भी जुड़ा हुआ है। वह श्रीनगर के बारजुला के बागहाट इलाके का ही रहने वाला है। जहाँ पर आज उसकी दहशत भी है।