AAP became the largest party in Punjab, know the 5 main reasons behind the victory
File Photo:ANI

    नई दिल्ली: पंजाब चुनाव (Punjab Elections) को लेकर राज्य में तैयारियां तेज़ हो गई है। इस बीच पंजाब से पहले राज्य में कई दौरों और उम्मीदवारों की लिस्ट जारी होने के बाद दिल्ली के मुख्यमंत्री और आम आदमी पार्टी (Aam Admi Party) के राष्ट्रीय संयोजक अरविंद केजरीवाल (Delhi CM Arvind Kejriwal) ने पंजाब विधानसभा चुनाव (Punjab Assembly Election 2022) के लिए पार्टी के मुख्यमंत्री (Chief Minister Candidate) पद के उम्मीदवार की घोषणा की है। पंजाब में संगरूर निर्वाचन क्षेत्र से आम आदमी पार्टी के लोकसभा सांसद भगवंत मान (Bhagwant Mann) आगामी विधानसभा चुनावों के लिए पार्टी के मुख्यमंत्री पद के उम्मीदवार होंगे।

    केजरीवाल ने 13 जनवरी को पंजाब की जनता से मुख्यमंत्री पद के लिए अपने पसंदीदा उम्मीदवार का नाम बताने की अपील की थी। इस बाबत उन्होंने एक मोबाइल नंबर भी जारी किया था। केजरीवाल ने बताया कि, पब्लिक वोटिंग से किए गए फैसला में 21 लाख से ज्यादा पंजाब के लोगों ने पब्लिक वोटिंग में अपना मत दिया था, जिसमें से 93.3 फीसदी ने भगवंत मान को चुना। 

    केजरीवाल ने तब कहा था कि वह ‘आप’ सांसद भगवंत सिंह मान को मुख्यमंत्री पद का चेहरा घोषित करना चाहते थे, लेकिन मान ने यह फैसला पंजाब की जनता पर छोड़ने पर जोर दिया। आप के राष्ट्रीय संयोजक ने जून 2021 में कहा था कि 2022 के पंजाब विधानसभा चुनाव के लिए पार्टी का मुख्यमंत्री पद का दावेदार सिख समुदाय से होगा और पूरे पंजाब को पार्टी के चयन पर नाज होगा।  पंजाब में चुनाव लड़ने वाले प्रमुख दलों में ‘आप’ एकमात्र ऐसी पार्टी है, जिसने अपने मुख्यमंत्री पद के चेहरे की घोषणा की है। गौरतलब है कि पंजाब की 117 सदस्यीय विधानसभा के लिए 20 फरवरी को मतदान होना है और मतगणना 10 मार्च को की जाएगी।