File Photo
File Photo

    नई दिल्ली: पंजाब के मुख्यमंत्री अमरिंदर सिंह ने ऑक्सीजन की कमी से हुई मौतों पर बड़ा बयान दिया है। सिंह ने कहा, “ऑक्सीजन संकट के शुरुआत में एक निजी अस्पताल में छह लोगों की मौत हुई थी।” बुधवार को पत्रकारों से बात करते हुए मुख्यमंत्री ने यह जानकारी दी। 

    सिंह ने कहा, “अमृतसर के एक निजी अस्पताल में शुरुआत में छह लोगों की मौत हो चुकी थी, जब ऑक्सीजन की कमी हो गई थी। बस इतना ही। हमने 70 टन ऑक्सीजन का उत्पादन किया और 300 टन की आवश्यकता थी। अब हम 400 टन ऑक्सीजन का उत्पादन करते हैं। अब कोई समस्या नहीं है।”

    ज्ञात हो कि, बीते मंगलवार को स्वास्थ्य मंत्रालय के संयुक्त सचिव लव अग्रवाल ने बताया था कि, राज्यों से ऑक्सीजन की कमी से होने वाली मौतों के बारे में पूछा गया। अब तक की रिपोर्टों के अनुसार, एक राज्य ने हमें एक संदिग्ध मामले के बारे में सूचित किया। अब तक हमें रिपोर्ट भेजने वाले सभी राज्यों ने हमें यह नहीं बताया है कि उन्होंने विशेष रूप से ऑक्सीजन के कारण मौत की सूचना दी है।”

    अमरिंदर ने स्वास्थ्य मंत्री से मुलाकात 

    अपने दिल्ली दौरे में अमरिंदर ने स्वास्थ्य मंत्री मनसुख मंडाविया से मुलाकात की। बैठक से बाहर निकलने के बाद उन्होंने कहा, “मैं आज मंत्री से मिला और मैं बहुत आश्वस्त हूं। बठिंडा में डीएपी और सीओवीआईडी वैक्सीन और एक ड्रग पार्क की कमी – ये तीनों लंबित थे। हमने उनसे बात की, उन्होंने बहुत सकारात्मक प्रतिक्रिया दी। मुझे उम्मीद है कि जल्द ही तीनों मुद्दों का समाधान मिल जाएगा।”