ऑक्सीजन युक्त 157 बेड का लोकार्पण

  • जिला अस्पताल में बढ़ाई जा रहीं सुविधाएं
  • कोरोना को हराने में मिल रही सफलता : पालक मंत्री
  • निजी अस्पतालों में नहीं खर्च करना पड़ेगा धन

जलगांव. जिला प्रभारी मंत्री गुलाबराव पाटिल के अथक प्रयास से जिला अस्पताल में उपचार सुविधाएं निरंतर अपग्रेड की जा रही हैं. इसी क्रम में जलगांव वासियों को निजी अस्पताल में भर्ती होने और अधिक रुपए खर्च नहीं करना पड़ेगा. जिला प्रशासन ने कोरोना वायरस पर प्रभावी रूप से इलाज हेतु ऑक्सीजन युक्त बेड का लोकार्पण सोमवार को पालक मंत्री गुलाबराव पाटिल के हाथों से  किया है.

जलगांव में कोरोना मृत्यु दर घटी

लोकार्पण कार्यक्रम को संबोधित करते हुए जल आपूर्ति स्वच्छता तथा पालक मंत्री गुलाबराव पाटिल ने कहा कि जिले में कोरोना की मृत्यु दर को नियंत्रण में लाया गया है और उम्मीद है कि  इस लड़ाई को हम सब मिलकर जीतेंगे.  कोरोना के खिलाफ लड़ाई अब जीती जा रही है और संक्रमण  बढ़ने पर भी इससे लड़ने के लिए हम सब तैयार हैं.  उन्होंने कहा कि प्रशासन और रोटरी क्लब के सहयोग से 157 ऑक्सीजन बेड की स्थापना की गई है.

कोरोना से दो हाथ करने सामाजिक संस्थाएं जुटीं

ऑक्सीजन बेड को स्थापित करने में जलगांव रोटरी क्लब सेंट्रल और सद्ज्ञान फाउंडेशन का महत्वपूर्ण योगदान रहा है.  उन्होंने दो वार्डों, 76 और 31 में क्रमशः ऑक्सीजन के 107 बेड्स पर उन्होंने इसके लिए आवश्यक पाइपलाइन और नियंत्रण कक्ष स्थापित किया है. जिला अस्पताल में 157 ऑक्सीजन बेड स्थापित किए गए.

पालकमंत्री ने किया उद्घाटन

जल आपूर्ति मंत्री गुलाबराव पाटिल ने  इसका उद्घाटन किया गया.  इस अवसर पर गणमान्य अतिथि के रूप में भाजपा शहर विधायक राजूमामा भोले, जिलाधिकारी डॉ अभिजीत राऊत, आयुक्त सतीश कुलकर्णी, जिला परिषद सीईओ डॉ. बी.एन. पाटिल, अधिष्ठाता डॉ. जयप्रकाश रामानंद, सिविल सर्जन डॉ. एन. एस. चव्हाण, पूर्व महापौर विष्णु भंगाले, रोटरी क्लब जलगांव सेंट्रल की अपर्णा भट-कासार, महेंद्र रायसोनी सहित आदि लोग समारोह में शामिल हुए.