This temple of Sheetla Mata is the most special, where all the wishes are fulfilled

By: मृणाल पाठक 

भारत के कई क्षेत्रों में शीतला माता के कई प्राचीन मंदिर हैं. जैसे राजस्थान के पाली जिले में, जबलपुर के पालन में घमापुर शीतलामाई मार्ग पर और भोपाल की बड़ी झील के किनारे स्थित शीतला माता मंदिर बहुत ही प्रसिद्ध है. लेकिन, इन सब में गुडगांव के मंदिर को सबसे खास माना जाता है. 

गुड़गांव के गुरुग्राम में एक शीतला माता मंदिर है. जो देश भर में काफी प्रसिद्ध है. देश की  अलग-अलग जगह से श्रद्धालु यहां अपनी मनोकामना लेकर आते हैं. यहां साल में दो बार एक-एक महीने का मेला लगता है. इस मंदिर की कहानी महाभारत काल से जुड़ी हुई है.

प्रचलित मान्यता के अनुसार, जब गुरु द्रोण महाभारत के युद्ध में द्रौपदी के भाई धृष्टद्युम्न द्वारा वीरगति को प्राप्त हुए, तो उनकी पत्नी कृपी भी सती होने के लिए तैयार हो गईं. उन्हें कई लोगों ने रोकने की कोशिश की परंतु माता कृपी सती होने का निश्चय कर चुकीं थीं और वह अपने पति की चिता पर बैठ गईं. उन्होंने लोगों को आशीर्वाद दिया कि मेरे इस सती स्थल पर जो भी अपनी मनोकामना लेकर आएगा उसकी मनोकामना पूर्ण होगी