शुरू हो गया है ‘माघ महीना’, जानें कब है इस साल की माघ पूर्णिमा

    नई दिल्ली: हिंदू धर्म में कई महीने ऐसे है जो बेहद महत्वपूर्ण होते है, इन महीनों का धार्मिक महत्व अधिक होता है ऐसा ही एक महीना है जो कल से शुरू हो चुका है। ये महीना है माघ का महीना। जी हां सनातन हिन्दू धर्म ‘माघ महीने’ (Magh Month) को पवित्र महीना माना जाता है। क्योंकि, माघ हिंदू पंचांग का 11वां महीना है। इस महीने में कई महत्वपूर्ण तिथियां है, उन्ही में से एक है माघ पूर्णिमा, जो इस महीने के सबसे अंत में आती है। आइए कल से शुरू हुए इस पवित्र महीने में माघ पूर्णिमा कब है जानते है… 

    आपको बता दें कि इस साल माघ महीना 18 जनवरी यानी कल से शुरू हो चुका है, जिसका समापन 16 फरवरी 2022 को होगा। माघ के महीने में दान, स्नान, उपवास और तप का विशेष महत्व होता है। यही कारण है कि इस महीने में लोग हरिद्वार और प्रयागराज जैसे धार्मिक स्थलों पर गंगा स्नान करने जाते हैं। यह महीना सभी हिन्दुओं के लिए बेहद पावन होता है। 

    मान्यताओं के मुताबिक माघ के महीने को नदी में स्नान, दान आदि के लिए अत्यंत शुभ माना गया है। कहा जाता है कि इस महीने में दान करने से घर में और जीवन में सुख समृद्धि बनी रहती है।  माघ महीने में कई धार्मिक पर्व आते हैं साथ ही प्रकृति भी अनुकूल होने लगती है। इसके आलावा इस महीने में संगम तट पर कल्पवास करने का भी विधान है। 

    कब है माघ अमावस्या 

    माघ महीने में ये दोनों ही तिथियां बहुत महत्वपूर्ण होते है। आपको बता दें कि इस साल माघ मास में अमावस्या की तिथि 01 फरवरी 2022,  मंगलवार को पड़ रही है। बता दें कि इस अमावस्या को ‘मौनी अमावस्या’ भी कहा जाता है। इस दिन स्नान एवं दान करते हैं और मौन व्रत रखने की परंपरा है। साथ ही पितरों के लिए तर्पण, पिंडदान और श्राद्ध कर्म किया जाता है।

    इस तारीख पर है माघ पूर्णिमा 

    बता दें कि माघ महीने में पंचांग के अनुसार 16 फरवरी 2022, बुधवार को पूर्णिमा की तिथि है। इस पवित्र दिन को माघ पूर्णिमा भी कहा जाता है। इस दिन व्रत, स्नान श्री सत्यनारायण का पाठ करना अत्यंत शुभ फल प्रदान करने वाला माना गया है। इस दिन कई लोग इसका महत्व समझाते हुए अपने घर पर सत्यनारायण कथा का पठन करते है।