Congress will send 11 bricks of silver for construction of Ram temple: Kamal Nath
File Photo

भोपाल: मध्य प्रदेश कांग्रेस अध्यक्ष कमलनाथ ने मंगलवार को घोषणा की कि प्रदेश कांग्रेस अयोध्या में राम मंदिर निर्माण के लिए चांदी की 11 ईंटें भेजेगी। अयोध्या में भगवान राम के मंदिर का शिलान्यास पांच अगस्त को होने वाला है। कमलनाथ ने यहां अपने सरकारी निवास पर राम दरबार सजाकर हनुमान चालीसा के पाठ का आयोजन करने के बाद मीडिया से कहा, ‘‘हम राम मंदिर निर्माण के लिये प्रदेश की जनता की ओर से चाँदी की 11 ईंट :शिला: भेज रहे हैं। ये ईंट प्रदेश के नागरिकों एवं कांग्रेस कार्यकर्ताओं के सहयोग से चंदा एकत्रित कर खरीदे गये हैं।” उन्होंने कहा, ‘‘हम राम मंदिर निर्माण का स्वागत करते हैं।”

कमलनाथ ने कहा कि पूर्व प्रधानमंत्री राजीव गांधी ने वर्ष 1985 में इसकी शुरुआत की थी और वर्ष 1989 में उन्होंने इसका शिलान्यास किया था। उन्होंने दावा किया, ‘‘राजीव गांधी जी के कारण ही राम मंदिर का सपना आज साकार हो रहा है। आज राजीव जी होते तो यह सब देखते।”

कमलनाथ ने कहा कि भारत की संस्कृति सभी को जोड़ने वाली है। यहाँ विभिन्न भाषाएं एवं विभिन्न धर्मों के लोग रहते है। यह हमारी पहचान है। उन्होंने कहा, ‘‘हम जब भी कुछ करते है, भाजपा के पेट में दर्द पता नहीं क्यों चालू हो जाता है। क्या धर्म पर उनका पेटेंट है, उनका ठेका है? उन्होंने :भाजपा: धर्म की एजेंसी ली हुई है क्या?”

मध्य प्रदेश के पूर्व मुख्यमंत्री कमलनाथ ने कहा कि मैंने कुछ साल पहले छिन्दवाड़ा में हनुमान जी की मूर्ति स्थापित की। इसके अलावा, हमने अपनी पूर्व प्रदेश सरकार में गौशालाएँ बनवायी, ‘राम वन गमन पथ’ पथ के निर्माण की बाधाएं दूर की और महाकाल व ओंकारेश्वर मंदिर के विकास की योजना बनायी। उन्होंने कहा, ‘‘बस हम धर्म का उपयोग राजनीति के लिये नहीं करते हैं। हम इसे ‘इवेंट’ नहीं बनाते हैं। हम सभी की सोच धार्मिक है लेकिन हम धर्म और राजनीति का गठजोड़ नहीं करते हैं।

कमलनाथ ने कहा कि उन्होंने हनुमान चालीसा का पाठ कर देश-प्रदेश की खुशहाली की कामना की। इससे पहले कमलनाथ ने अपने ट्विटर अकाउंट में भगवा कपड़े में अपनी तस्वीर भी पोस्ट की।

इस बीच, मध्य प्रदेश कांग्रेस के मीडिया समन्वयक नरेन्द्र सलूजा ने बताया कि कमलनाथ के भोपाल स्थित निवास पर मंगलवार को प्रदेश की खुशहाली, समृद्धि, उन्नति व प्रदेशवासियों के स्वस्थ्य रहने की कामना को लेकर ग्यारह पंडितों द्वारा राम दरबार सजाकर हनुमान चालीसा के पाठ का आयोजन कमलनाथ की उपस्थिति में संपन्न हुआ। उन्होंने कहा कि इस अवसर पर मधुर भजनों द्वारा हनुमान जी की स्तुति एवं पूजन किया गया।

सलूजा ने बताया कि कमलनाथ ने प्रदेश के सभी नागरिकों व लाखों कांग्रेसजनों से अपील की थी कि वे भी आज अपने-अपने घरों में या पास के मंदिरों में कोरोना वायरस के नियमों का पालन करने हुए हनुमान चालीसा का पाठ व पूजन करें। उनकी इस अपील पर प्रदेश भर में हनुमान चालीसा के पाठ व पूजन के कार्यक्रम आयोजित हुए।(एजेंसी)