vaccine
Representative Image

    भोपाल. मध्य प्रदेश (Madhya Pradesh) के मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान (Chief Minister Shivraj Singh Chouhan) ने बृहस्पतिवार को कहा कि प्रदेश में एक मई से 18 से 44 वर्ष के आयु वाले व्यक्तियों का कोरोना टीकाकरण (Corona Vaccination) अभियान प्रारंभ किया जाना था, लेकिन टीका निर्माता कंपनियों से टीका प्राप्त नहीं होने के कारण यह अभियान एक मई से प्रारंभ नहीं किया जा सकेगा। उन्होंने कहा कि प्रदेश में तीन मई को टीकों की खुराक मिलने की संभावना है और उसके बाद इस आयु वर्ग का टीकाकरण का कार्य किया जाएगा। हालांकि, चौहान ने कहा कि 45 वर्ष से अधिक उम्र वाले व्यक्तियों के टीकाकरण का कार्य निरंतर जारी रहेगा।

    चौहान ने बृहस्पतिवार को मुख्यमंत्री निवास से वीडियो कॉन्फ्रेंस के माध्यम से प्रदेश में कोरोना टीकाकरण कार्य की समीक्षा करते हुए यह बात कही। उन्होंने कहा, “कोरोना का टीका 18 वर्ष से 44 वर्ष तक के उम्र वाले व्यक्तियों को भी नि:शुल्क लगाया जाएगा। जैसे-जैसे निर्माता कंपनियों से टीकों की खुरका प्राप्त होंगे, वैसे-वैसे टीकाकरण किया जाएगा।”

    चौहान ने निर्देश दिए कि कोरोना संक्रमण के मद्देनजर टीकाकरण के लिए नए केंद्र स्थापित किए जायें, अस्पतालों में टीकाकरण कार्य नहीं किया जाए। मध्य प्रदेश में 28 अप्रैल तक कोविड-19 टीके की 80,66,980 खुराक दी गईं, जिनमें से 70,19,763 पहली खुराक तथा 10,47,217 दूसरी खुराक दी गईं हैं।