naxal
File Photo

बालाघाट. मध्यप्रदेश (Madhya Pradesh) में नक्सल (Naxal) प्रभावित बालाघाट (Balaghat) जिला मुख्यालय से लगभग 50 किलोमीटर दूर छत्तीसगढ़ (Chhatisgarh) और महाराष्ट्र सीमा (Maharashtra Border) से लगे प्रदेश के वन क्षेत्र में मध्यप्रदेश पुलिस ने दो अलग-अलग मुठभेड़ (Encounter) में दो महिला नक्सलवादियों (Women Naxalite) को मार गिराया। मध्यप्रदेश सहित तीन राज्यों की पुलिस ने प्रत्येक पर 14 लाख रुपये का इनाम घोषित कर रखा था।

बालाघाट पुलिस रेंज के महानिरीक्षक (आईजी) केपी वेंकटेश्वर राव ने शनिवार को ‘पीटीआई-भाषा’ को बताया कि बालाघाट जिले में छत्तीसगढ़ और महाराष्ट्र सीमा से लगे प्रदेश के वन क्षेत्र में शुक्रवार देर रात और शनिवार सुबह को पुलिस मुठभेड़ में इन महिला नक्सलियों को मारा गिराया गया।

उन्होने बताया कि मृत नक्सलियों की पहचान बस्तर के गंगलोर की रहने वाली सावित्री आलिया अयोठे (24) और गढ़चिरोली महाराष्ट्र की रहने वाली उमेश गवड़े की पत्नी शोभा (30) के तौर पर हुई है। इन दोनों पर मध्यप्रदेश सहित तीन राज्यों की पुलिस द्वारा प्रत्येक पर 14 लाख रुपये का इनाम घोषित किया गया था।

आईजी ने बताया कि मुठभेड़ के बाद पुलिस को मौके से सावित्री के पास एक इंसास रायफल और शोभा के पास से 12 बोर की बंदूक बरामद हुई है। उन्होंने बताया कि सावित्री और शोभा तीन राज्यों की पुलिस द्वारा क्रमश: 25 और 21 आपराधिक मामलों में वांछित थीं। राव ने बताया कि दोनों नक्सली मलाज खंड दलम, बालाघाट क्षेत्र समिति की सदस्य थीं।

इससे पहले, शनिवार सुबह मुठभेड़ के बाद बालाघाट के जिला पुलिस अधीक्षक अभिषेक तिवारी ने बताया कि एक महिला नक्सली शुक्रवार रात 11 बजे मुठभेड़ में मारी गयी जबकि दूसरी महिला नक्सली को शनिवार सुबह सात बजे मार गिराया गया। पुलिस ने बताया कि दोनों मुठभेड़ किरनापुर थाना क्षेत्र में हुई हैं। तिवारी ने बताया कि सूचना मिली थी कि माओवादी नक्सली नेता अपनी अगली योजना के तहत महाराष्ट्र और छत्तीसगढ़ से नक्सलियों को मध्यप्रदेश के बालाघाट और मंडला जिले में भेज रहे हैं।