Coronavirus
File Photo

    मुंबई. महाराष्ट्र (Maharashtra) में कोरोना वायरस (Coronavirus) का प्रकोप बढ़ते ही जा रहा है। जिससे राज्य सरकार की मुश्किलें और बढ़ती दिखाई दे रही है। सरकार कोरोना वायरस को रोकने में अब तक नाकाम रही है। कई जिलों में लॉकडाउन के बावजूद रिकॉर्ड मामले सामने आ रहे हैं। पिछले 24 घंटे में राज्य के अंदर 25 हजार से अधिक नए मामले सामने आए हैं। यह इस साल के सबसे ज्यादा मामले हैं। इस बात की जानकारी मंगलवार को स्वास्थ्य विभाग ने दी है।

    स्वास्थ्य विभाग के अनुसार गुरुवार को राज्य में 25,833 नए मामले सामने आए हैं, जिसके बाद संक्रमितों की कुल संख्या बढ़कर 23,96,340 हो गई है। वहीं पिछले 24 घंटे में कोरोना से 58 लोगों की मौत हुई जिससे मरने वालों की कुल संख्या 53,138 पर पहुंची गई है।

    उल्लेखनीय है कि इस साल फरवरी महीने में कोरोना के मामलों में अचानक बढ़ोतरी हुई। जिसके बाद से कोरोना के मामले रुकने का नाम नहीं ले रहे। बुधवार को राज्य में 23,179 नए मामले दर्ज किए गए थे। वहीं आज कोरोना ने राज्य में इस साल के सभी रिकॉर्ड तोड़ दिए।

    स्वास्थ्य विभाग के अनुसार पिछले 24 घंटो में राज्य में कुल 12,764 लोग कोरोना मुक्त हुए हैं। सभी को अस्पताल से छुट्टी दे दी गई है। राज्य में अब तक कुल 21,75,565 लोग कोरोना को मात दे चुके हैं। फिलहाल राज्य में 1,66,353 मरीजों का इलाज चल रहा है।

    नागपुर में कोरोना का कहर

    राज्य की उपराजधानी नागपुर देश में कोरोना का नया हॉस्पॉट बना गया है। जिले में लॉकडाउन लगने के बाद भी मामले तेजी से सामने आ रहे। गुरुवार को जिले में 3,796 नए मामले सामने आए हैं। वहीं 23 लोगों की मौत हुई है और 1,277 लोग कोरोना मुक्त हुए है। जिसके बाद कुल मामलों और मरने वालों की संख्या क्रमशः 18,5817 और 4,528 हो गई है।

    पुणे संभाग में भी कोरोना का कोहराम

    पुणे संभाग (पुणे (Pune), सातारा (Satara), सांगली (Sangli), सोलापुर (Solapur), कोल्हापुर (Kolhapur) ) में 24 घंटे के भीतर कोरोना (Corona) के 5,412 नए मरीज मिले हैं। इसमें अकेले पुणे जिले के 4,745 मरीज शामिल है। इसके अलावा सातारा में 308, सोलापुर में 249, सांगली में 64 और कोल्हापुर जिले में 46 नए संक्रमित मरीजों का समावेश है। राहत की बात है कि संभाग में गुरुवार को कुल 2,206 संक्रमित कोरोना मुक्त हुए हैं। इसमें पुणे जिले के 1,973, सातारा जिले के 93, सोलापुर जिले के 83, सांगली जिले के 28 और कोल्हापुर जिले के 29 मरीज शामिल हैं।

    पुणे संभाग में रिकवरी रेट 92.77 और डेथ रेट 2.50 फीसदी दर्ज हुआ है। संभाग में अब तक कुल 44 लाख 11 हजार 509 लोगों की टेस्ट की गई है। उनमें से अब तक 6 लाख 65 हजार 384 संक्रमित पाए गए हैं। उनमें से 6 लाख 17 हजार 259 मरीजों ने महामारी को मात दी है। फिलहाल 31 हजार 492 मरीजों का इलाज जारी है। जबकि अब तक 16 हजार 633 मरीजों की मौत दर्ज हुई है।

    मुंबई में 2,877 नए मामले

    मुंबई में आज 2877 नए मामले सामने आए है। शहर में आठ मरीजों की मौत हो जाने के साथ ही अबतक यहां 11,555 लोग इस संक्रमण से जान गंवा चुके हैं। शहर में पिछले साल सात अक्टूबबर को कोरोना के 2,848 मामले सामने आये थे जो यहां इस संक्रमण के सिर उठाने के बाद सर्वाधिक थे।

    इस बीच मुख्यमंत्री उद्धव ठाकरे ने संभागीय आयुक्तों से कोविड-19 को फैलने से रोकने के लिए घोषित पाबंदियों का कड़ाई से अनुपालन सुनिश्चित करने को कहा है। डिजिटल बैठक में ठाकरे ने कहा कि राज्य में रोजाना मामले बड़ी तेजी से बढ़े हैं लेकिन टीकाकरण अभियान ने भी रफ्तार पकड़ी है।

    उन्होंने कहा, “पिछले साल इस महामारी के आने के बाद बृहस्पतिवार को सर्वाधिक मामले के मद्देनजर जिला प्रशासन संक्रमितों के संपर्क में आने व्यक्तियों की पहचान की गति बढ़ाए, पाबंदियां एवं सुरक्षा नियम लागू करें।” ठाकरे ने कहा कि रोजाना तीन लाख टीके लगाना लक्ष्य होना चाहिए। स्वास्थ्य सचिव प्रदीप व्यास ने कहा कि यदि रोजाना मामलों में वृद्धि जारी रही जो अप्रैल के पहले सप्ताह में राज्य में तीन लाख मरीज उपचाराधीन होंगे।