tope

    मुंबई. कांग्रेस (Congress) की महाराष्ट्र (Maharashtra) ईकाई ने मंगलवार को कहा कि राज्य में कोविड-19 के महज 0.22 प्रतिशत टीके बर्बाद हुए हैं न कि छह प्रतिशत जैसा कि कंद्रीय मंत्री प्रकाश जावड़ेकर (Prakash Javadekar) ने दावा किया।  कांग्रेस ने यह भी कहा कि महाराष्ट्र में केवल 23,547 टीके बचे हैं और उसने पूछा कि अगर पर्याप्त टीके नहीं मिलते हैं तो राज्य लोगों के टीकाकरण की योजना कैसे बना सकता है। जावड़ेकर ने पिछले महीने ट्वीट कर दावा किया था कि महाराष्ट्र में करीब छह प्रतिशत टीके बर्बाद हो गए।

    राज्य के स्वास्थ्य मंत्री राजेश टोपे (Rajesh Tope) ने बाद में दावा खारिज करते हुए कहा था कि यह सही नहीं है। कांग्रेस के राज्य प्रवक्ता सचिन सावंत ने मंगलवार को टि्वटर पर केंद्र द्वारा जारी ताजा आंकड़ों को टैग किया और कहा, ‘‘प्रकाश जावड़ेकर जी महाराष्ट्र में 0.22 प्रतिशत टीके बर्बाद हुए हैं न कि आपके झूठ के अनुसार छह प्रतिशत। मोदी सरकार ने आपके झूठ का पर्दाफाश कर दिया।”

    सावंत ने कहा कि महाराष्ट्र सरकार को राज्य के स्वास्थ्य कर्मियों पर गर्व है जिन्होंने कम से कम टीके बर्बाद किए और टीकाकरण में राज्य को नंबर एक बनाया। उन्होंने जावड़ेकर की आलोचना करते हुए कहा, ‘‘यह वाकई बहुत दुखद है कि आपकी तरह महाराष्ट्र भाजपा के नेता राज्य का अपमान कर रहे हैं और उसे बदनाम कर रहे हैं।” सावंत ने कहा, ‘‘एक अन्य तथ्य यह है कि महाराष्ट्र के पास केवल 23547 टीके हैं। अगर मोदी सरकार समय पर पर्याप्त टीके उपलब्ध नहीं कराती है तो हम कैसे टीकाकरण कार्यक्रम की योजना बना सकते हैं।” गौरतलब है कि महाराष्ट्र में शिवसेना और राकांपा के साथ कांग्रेस सत्ता में है।