If Taj Mahal is opening, why can't Ajanta and Ellora open: experts

औरंगाबाद. कोरोना वायरस महामारी के बीच ताज महल को लोगों के लिये खोले जाने के फैसले का हवाला देते हुए पर्यटन उद्योग के प्रतिनिधियों ने महाराष्ट्र स्थित दो विश्व प्रसिद्ध धरोहर स्थलों अजंता और एलोरा की गुफाओं को खोलने की वकालत की है। उन्होंने रविवार को ‘औरंगाबाद पर्यटन: बदली हुई दुनिया और चुनौतियां’ पर एक पैनल चर्चा के दौरान कहा कि महामारी के दौरान पर्यटन गतिविधियों को फिर से शुरू करने के लिए पर्यटन स्थलों के डिजिटल प्रचार की भी आवश्यकता है।

उत्तर प्रदेश के आगरा में ताजमहल को 21 सितंबर से फिर से खोलने की तैयारी है। हालांकि, औरंगाबाद स्थित अजंता और एलोरा की गुफाओं और महाराष्ट्र में अन्य स्मारकों को आगंतुकों के लिए फिर से खोलने पर निर्णय लिया जाना बाकी है। औरंगाबाद पर्यटन विकास फाउंडेशन के नागरिक उड्डयन समिति के अध्यक्ष सुनीत कोठारी ने चर्चा के दौरान कहा,”जब भारतीय पुरातत्व सर्वेक्षण के आगरा सर्कल ने ताजमहल को फिर से खोलने का फैसला किया है, तो अजंता और एलोरा को क्यों नहीं खोला जा सकता है?”

उन्होंने औरंगाबाद के पर्यटन स्थलों को बढ़ावा देने के लिए सोशल मीडिया और डिजिटल प्लेटफार्मों का उपयोग करने का भी आह्वान किया। उन्होंने कहा कि पर्यटन स्थलों पर सुरक्षा के लिये बरती जाने वाली सावधानी के वीडियो भी यहां आने के वास्ते लोगों को आकर्षित करने में मदद कर सकते हैं।(एजेंसी)