ajit pawar and kale

    मुंबई. पंढरपुर-मंगलवेढा विधानसभा (Pandharpur-Mangalvedha Legislative Assembly) उप चुनाव के दौरान भाजपा (BJP) को जोरदार झटका लगा है। सोलापुर जिले (Solapur District) में प्रभुत्व रखने वाले कल्याणराव काले (Kalyanrao Kale) गुरुवार को उप मुख्यमंत्री अजीत पवार (Ajit Pawar) की मौजूदगी में राष्ट्रवादी कांग्रेस पार्टी (NCP) में शामिल हो गए। काले विधानसभा चुनाव के पहले ही कांग्रेस को छोड़ भाजपा में शामिल हुए थे, लेकिन वे दो साल भी भाजपा में रह नहीं सके। उन्होंने कहा कि वह बीच में गलत ट्रैक पर चले गए थे। अब हमेशा राष्ट्रवादी कांग्रेस पार्टी के साथ रहेंगे।

     पंढरपुर-मंगलवेढा विधानसभा निर्वाचन क्षेत्र के लिए हो रहे उप चुनाव के समय कल्याणराव काले का पार्टी छोड़ना भाजपा के लिए बड़ा झटका माना जा रहा है। सहकार शिरोमणि वसंतराव चीनी मिल के अध्यक्ष कल्याणराव काले अब अपने समर्थकों के साथ राष्ट्रवादी कांग्रेस पार्टी के उम्मीदवार भगीरथ भालके का प्रचार करेंगे। 

    गलत ट्रैक पर चला गया था: कल्याणराव काले

    काले ने कहा कि विठ्ठल परिवार एक साथ आना चाहिए। आने वाले दिनों में परिवार की ताकत विरोधियों को दिखाया जाना चाहिए। बीच के समय में ट्रैक गलत हो गया था। अब पूरे जिले को राष्ट्रवादीमय करुंगा।  पवार साहेब की ताकत हमेशा हमारे पीछे रहती है। अब मैं हमेशा के लिए  एनसीपी (NCP) के लिए काम करुंगा।   विधायक भारत भालके के परिवार वालों से मुलाकात करने कुछ दिनों पहले एनसीपी प्रमुख शरद पवार सरकोली गए थे। उस समय पूरे कार्यक्रम में कल्याणराव मौजूद थे। जिसको लेकर तर्क वितर्क भी शुरु हुए थे। उसी समय से कल्याणराव के एनसीपी में जाने की चर्चा थी। उस समय कल्याणराव ने कहा था कि शरद पवार जैसे कहेंगे, उस पद्धति से काम करुंगा। उन्होंने सभी के साथ मिल बैठ कर निर्णय लेने की भी बात कही थी।