महाराष्ट्र सरकार में सब ठीक नहीं! शिवसेना-बीजेपी के साथ आने पर चर्चा शुरू

    मुंबई: महाराष्ट्र (Maharashtra) की उद्धव सरकार (Uddhav Thackeray) में सब कुछ ठीक नहीं है। दरअसल सरकार में शामिल कांग्रेस-एनसीपी (Congress-NCP) और शिवसेना (Shiv Sena) में कुछ मसलों पर विचार अलग हुए हैं। जिसके कारण खटास बढ़ गई है। इन सब के बीच शिवसेना के एक विधायक प्रताप सरनाईक ने उद्धव ठाकरे को एक पत्र लिखकर कांग्रेस-एनसीपी के नेताओं द्वारा सहयोग न करने और भाजपा से रिश्ते बेहतर करने की मांग की है। 

    वहीं दूसरी तरफ कांग्रेस ने पहले ही घोषणा कर दी है कि वह चुनाव अकेले लड़ने जा रही है। यही कारण है कि शिवसेना-बीजेपी में नए रिश्ते का आगाज होने की चर्चा है। इससे पहले 8 जून को प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी और सीएम उद्धव ठाकरे के बीच बैठक हुई थी। जिसके बाद शिवसेना के मुखपत्र सामना में पीएम मोदी को देश का सबसे बड़ा नेता बताया गया। 

    उल्लेखनीय है कि कांग्रेस द्वारा अपने दम पर चुनाव लड़ने के ऐलान के बाद से ही ऐसी खबरें सामने आने लगी की सरकार में सब कुछ ठीक नहीं है। हालांकि उन्होंने यह भी कहा था कि कांग्रेस की तरफ से महाराष्ट्र सरकार को किसी तरह की दिक्कत नहीं है। साथ ही हम पुरे पांच साल सरकार के साथ हैं। 

    दूसरी तरफ सरकार में मतभेद की खबरों पर शिवसेना सांसद संजय राउत ने प्रतिक्रिया दी थी। उन्होंने कहा कि शिवसेना, कांग्रेस और एनसीपी एक साथ हैं। साथ ही हम पुरे पांच साल सरकार चलाएंगे। हमारी सरकार में सब ठीक चल रहा है।