bus

 मुंबई. महाराष्ट्र राज्य सड़क परिवहन निगम (MSRTC) ने शुक्रवार की सुबह सौ फीसदी यात्री क्षमता के साथ बसों का परिचालन शुरू किया। इससे पहले कोविड-19 के कारण लगाए गए लॉकडाउन (Lockdown) में ढील दिए जाने के बाद से MSRTC 50 प्रतिशत यात्री क्षमता के साथ एक सीट पर केवल एक यात्री को बैठने की अनुमति देते हुए बसें चला रहा था। जिले के भीतर बस परिचालन की सेवा 22 मई से और अंतर जिला बस सेवा 20 अगस्त से बहाल की गई थी।

MSRTC के अधिकारियों के मुताबिक, राज्यभर में बसों में यात्रियों की संख्या बढ़ने की उम्मीद है। इस निर्णय से मुंबई महानगर क्षेत्र (एमएमआर) के यात्रियों को भी राहत मिलने की उम्मीद है जिन्हें स्थानीय ट्रेन सेवा बंद होने के कारण सार्वजनिक परिवहन की कमी से जूझना पड़ रहा है।

निगम के उपाध्यक्ष और महाप्रबंधक शेखर चन्ने ने बृहस्पतिवार को कहा, “राज्य सरकार ने हमें 50 प्रतिशत की बजाय सौ प्रतिशत यात्री क्षमता के साथ बसें चलाने की अनुमति दे दी है।” उन्होंने कहा, “इस निर्णय से एमएमआर के यात्रियों को राहत मिलेगी।” एमएमआर में ठाणे, रायगढ़ और पालघर जिले भी आते हैं तथा एमएसआरटीसी यहां लगभग 550 बसें चलाता है। एमएसआरटीसी के अधिकारियों ने कहा कि शुक्रवार से बसों में पहले की तरह यात्रियों को बैठने की अनुमति होगी। उन्होंने कहा कि हालांकि एक बस में पांच से अधिक यात्रियों को खड़े होने की अनुमति नहीं दी जाएगी।