sharad pawar

 मुंबई. राष्ट्रवादी कांग्रेस पार्टी (NCP) के प्रमुख शरद पवार (Sharad Pawar) ने 2018 में हुई कोरेगांव-भीमा हिंसा के मामले में महाराष्ट्र के कुछ मंत्रियों के साथ बीते बृहस्पतिवार को बैठक की थी। बैठक में हिस्सा लेने वाले ऊर्जा मंत्री एवं कांग्रेस नेता नितिन राउत (Nitin Raut) ने कहा कि ”साजिश करने वाले वास्तविक अपराधियों” की जांच के लिए विशेष जांच दल गठित करने को लेकर ”गंभीर चर्चा” की गई थी ।

राउत के अलावा बैठक में उप मुख्यमंत्री अजित पवार (Ajit Pawar), गृह मंत्री अनिल देशमुख (Anil Deshmukh), जल संसाधन मंत्री जयंत पाटिल और स्कूल शिक्षा मंत्री वर्षा गायकवाड भी मौजूद रहीं। इनमें से सिर्फ गायकवाड कांग्र्रेस नेता हैं, बाकि सभी राकांपा के नेता हैं। बैठक के बाद पवार ने संवाददाताओं से कहा, ” कुछ लोगों को नक्सली कहा गया (मामले के संबंध में)। हमें नहीं लगता कि यह सही था। इसलिए हमने वास्तविक हालात जानने के लिए मामले की समीक्षा की और विचार कर रहे हैं कि विशेषज्ञों से बात करके क्या किया जा सकता है?” एनआईए द्वारा जारी जांच के मुद्दे पर पवार ने कहा कि यह केंद्र का विशेषाधिकार है और वह इसमें हस्तक्षेप नहीं कर रहे।