Manpa officer attacked journalist

  • पुलिस ने दर्ज किया मामला दर्ज

मुंबई. अमेजन द्वारा अपने ऐप पर मराठी को पसंदीदा भाषा के तौर पर विकल्पों में से एक के रूप में शामिल नहीं करने को लेकर महाराष्ट्र नव निर्माण सेना (मनसे) ने धमकी दी थी.  धमकी में अमेजन को कहा था कि अगर अपने ऐप में मराठी को पसंदीदा भाषा विकल्पों में शामिल नहीं किया तो उसे मुंबई सहित महाराष्ट्र के अन्य शहरों में काम नहीं करने दिया जाएगा।

कल इसी मामले की सुनवाई के लिए अमेजन की ओर से वकील दुर्गेश गुप्ता गोरेगांव पूर्व के डिंडोशी सेशन कोर्ट में पहुंचे थे। उनके दलील को सुनने के बाद न्यायाधीश ने 9 दिसंबर 2020 को सुनवाई की अगली तारीख दे दी। जब वे कोर्ट से बाहर निकले तभी उनके इंतजार में खड़े मनसे के कार्यकर्ताओं ने उनके साथ मारपीट शुरू कर दी। इस हमले में उनके कान में अंदरूनी चोट आई है। वकील गुप्ता ने डिंडोशी पुलिस स्टेशन में उनके साथ हुई मारपीट को लेकर शिकायत दर्ज कराई है।

वरिष्ठ पुलिस निरीक्षक घणेन्द्र काम्बले ने बताया कि मनसे से जुड़े अखिल चित्रे और सहयोगी चेतन कंथारिया को पुलिस ने हिरासत में लिया है। आगे की जांच पुलिस कर रही है। मनसे पदाधिकारियों ने बताया कि वकील दुर्गेश दिंडोशी कोर्ट से बाहर आने के बाद हमारे साहब ( मनसे प्रमुख राज ठाकरे)को अपशब्द का इश्तेमाल कर थे जिसके लिए हाथापाई की नौबत आई।