बीएमसी के 5700 कोरोना योद्धाओं की टीम कर रही घर-घर जांच

  • कोरोना को कंट्रोल करने के लिए झोंकी अपनी पूरी ताकत 

मुंबई. बीएमसी ने मुंबई में कोरोना को कंट्रोल करने के लिए अपनी पूरी ताकत झोंक दी है और इसके लिए इसने एक भारी-भरकम पूर्ण योद्धाओं की फौज तैयार की है, जो घर-घर जाकर लोगों से मिलकर उनके स्वास्थ्य की जांच कर रही है, ताकि हर कोरोना संक्रमित मरीज को ट्रेस किया जा सके.

 प्रत्येक टीम में तीन-तीन लोग शामिल 

बीएमसी के अतिरिक्त आयुक्त सुरेश काकानी ने कहा कि इस अभियान को अंजाम देने के लिए मुंबई में 5700 योद्धाओं की एक टीम गठित की गई है. प्रत्येक टीम में 3-3 लोग शामिल हैं जो एक दिन में कम से कम 50 घरों में जाकर लोगों के स्वास्थ्य की जांच कर रहे हैं. प्रत्येक घर के व्यक्तियों का तापमान मापने के लिए थर्मलगन और ऑक्सीजन लेबल मापने के लिए ऑक्सीमीटर उपलब्ध कराया गया है. यह टीम लोगों का हेल्थ रिकॉर्ड इकट्ठा कर रही है, जिससे जरूरतमंदों को तत्काल मेडिकल सुविधा उपलब्ध कराई जा सके. अधिकारी के अनुसार, जांच के दौरान जिस व्यक्ति में कोरोना के लक्षण दिखाई देते हैं उसे तुरंत उपचार के लिए भेजा जाता है. 

मुंबई में दो से ढाई लाख लोगों को ट्रेस किया गया

कोरोना को मात देने के लिए  शुरू किए गए ‘ मेरा परिवार, मेरी जिम्मेदारी’ अभियान के अंतर्गत अब तक मुंबई में दो से ढाई लाख लोगों को ट्रेस किया गया है. जो किसी न किसी तरह कोरोना पॉजिटिव व्यक्ति के संपर्क में आए थे. बीएमसी के एक अधिकारी ने बताया कि जब से यह अभियान मुंबई नें शुरू किया गया है तब से प्रत्येक दिन 20 से 25 हजार लोगों को ट्रेस किया जा रहा है. इससे कोरोना मरीजों की संख्या शुरू में बढ़ेगी, लेकिन इससे संक्रमण को बढ़ने से रोकने में मदद मिलेगी. 

मरीजों की संख्या में कमी आई 

बीएमसी अधिकारी के मुताबिक 15 सितंबर से शुरू इस अभियान के अंतर्गत 20 सितंबर को 20 हजार 751 लोगों को ट्रेस किया गया था. जबकि 23 सितंबर को 26 हजार 754 लोगों को ट्रेस किया गया. इसी से अंदाजा लगाया जा सकता है कि यह अभियान कितनी तेजी से मुंबई में काम कर रहा है. इतनी ज्यादा जांच होने के बाद भी कोरोना मरीजों की संख्या में कमी आई है. कोरोना पॉजिटिव व्यक्तियों के संपर्क में आए लोगों को ट्रेस करने से मुंबई में कंटेनमेंट जोन और सील बिल्डिंगों की संख्या में भी इजाफा हो रहा है.  

राज्य में 13 लाख पार हुई कोरोना मरीजों की संख्या

इस बीच, महाराष्ट्र में शुक्रवार को कोरोना मरीजों की संख्या 13 लाख पार कर गई. शुक्रवार को राज्य में कोरोना के 17,794 नये मरीज मिले पर अच्छी बात यह रही कि 19, 592 मरीज ठीक भी हुए. दिन भर में 416 मरीजों की मौत हो गई. अब तक महाराष्ट्र में 62 लाख 80 हजार 788 मरीजों की जांच की गई है जिसमें 13 लाख 757 मरीज कोरोना पॉजिटिव पाए गए हैं. 9 लाख 92 हजार 806 मरीज कोरोना से ठीक हुए हैं. 19 लाख 29 हजार 572 लोग होम क्वारंटाइन में हैं और  32,747 लोगों को संस्थागत क्वारंटाइन में  रखा गया है. 

मुंबई में मिले 1876 नए मरीज

मुंबई में शुक्रवार को 1876 नये कोरोना मरीज मिले जबकि 48 मरीजों की मौत हो गई. कुल मरीजों की संख्या 1 लाख 94 हजार 303 और ठीक होने वालों की संख्या 1 लाख 56 हजार 808 हो गई है. मुंबई में कोरोना से 8706 मरीजों की मौत हो चुकी है.