रेस्टोरेंट खोलने की अनुमति दे सरकार

  • राजस्व मंत्री से मिला आहार का प्रतिनिधिमंडल
  • एक साल की लाइसेंस फीस माफ हो

मुंबई. मुंबई शहर में लगभग 8 हजार रेस्टोरेंट हैं और उससे 2 लाख से ज्यादा लोग जुड़े हुए हैं. लॉकडाउन की वजह से रेस्टोरेंट बंद हैं जिसकी वजह से रेस्टोरेंट से जुड़े तमाम लोग भुखमरी के कगार पर पहुंच गए हैं.होटल एवं रेस्टोरेंट से जुड़ी संस्था ‘आहार’ ने एसओपी तैयार कर मुंबई सहित महाराष्ट्र के रेस्टोरेंट को खोले जाने की मांग सरकार से की है.

आहार के एक शिष्टमंडल ने मंगलवार को राजस्व मंत्री बालासाहेब थोरात से मुलाकात कर उन्हें ज्ञापन दिया.आहार की तरफ से कहा गया है कि इस साल कारोबार पूरी तरह बंद है. इसकी वजह से एक साल की लाइसेंस फीस माफ की जाए.थोरात ने शिष्टमंडल को आश्वस्त किया कि महाविकास आघाड़ी सरकार की कोर कमेटी में इस विषय को रखूंगा. शिष्टमंडल में आहार के अध्यक्ष शिवानंद शेट्टी, उपाध्यक्ष निरंजन शेट्टी, सचिव सुकेश शेट्टी, संयोजक अमर शेट्टी, मुंबई युवक कांग्रेस के अध्यक्ष गणेश यादव, पूर्व नगरसेवक सुनील गंगवानी शामिल थे.