बिल में फर्क की रकम नहीं लौटाया अस्पताल

  • कमिश्नर से एफआईआर दर्ज कराने की मांग 

भायंदर. एक मरीज द्वारा चुकाए गए उपचार के बिल में फर्क की पूरी रकम नहीं लौटने का आरोप फेमिली केयर अस्पताल पर भाजपा नगरसेवक एड. रवि व्यास ने लगाया है. व्यास ने मीरा-भायंदर मनपा कमिश्नर डॉ. विजय राठौड़ को पत्र लिखकर फर्क की रकम वापस और अस्पताल के खिलाफ एफआईआर दर्ज कराने की मांग की है.

व्यास ने कहा कि उनके वार्ड में रहने वाली बीना रामस्वरूप गुप्ता को कोरोना संक्रमण के चलते मई में निजी फेमिली केयर अस्पताल में भर्ती कराया गया था. उनके उपचार का बिल 3,82,536 रुपए आया था. नियमों के तहत जब मनपा ने बिल का ऑडिट किया तो बिल में एक लाख रुपये ज्यादा लेने की बात सामने आई. व्यास का आरोप है कि फर्क की रकम प्राप्त करने के लिए गुप्ता का परिवार अस्पताल का चक्कर काटकर थक गया, लेकिन एक लाख में से सिर्फ 24 हजार रुपये ही उसे वापस मिले. बाकी की रकम लौटने के लिए अस्पताल टालमटोल करता रहा.

अस्पताल को बदनाम करने की कोशिश  

बीना गुप्ता के परिवार का आरोप बेबुनियाद और अस्पताल को बदनाम करने वाला है. वे अस्पताल आये ही नहीं, इसलिए यह मामला मुझे पहले मालूम ही नहीं था.अ गर मनपा की ऑडिट में फर्क आता है, तो फर्क की रकम हम लौटाने को तैयार हैं. नार्मल बिल में उनका उपचार हुआ है. उनका मेडिक्लेम पास नहीं हुआ होगा तो वे ऑडिट में गए होंगे. उनको 24 हजार रुपये छूट भी हमने दी थी.  – डॉ. जगदीश भवानी. मेडिकल डायरेक्टर, फेमिली केयर अस्पताल