वर्ली के सैकड़ों लोग मनसे में शामिल

  • धारा 144 का उल्लंघन कर कृष्ण कुंज पर जुटा हुजूम
  • पर्यावरण मंत्री आदित्य ठाकरे के नेतृत्व पर सवाल

मुंबई. विधानसभा चुनाव हुए अभी एक साल भी नहीं हुए हैं, लेकिन वर्ली के लोगों का पर्यटन मंत्री आदित्य ठाकरे से मोह भंग होने लगा है. जिसकी वजह से क्षेत्र के सैकड़ों लोगों ने शुक्रवार को मनसे का दामन थाम लिया. शहर में निषेधाज्ञा लागू होने के बावजूद दादर के शिवाजी पार्क स्थित मनसे प्रमुख राज ठाकरे के आवास कृष्ण कुंज पर लोगों का हुजूम लगा रहा.

 महाराष्ट्र नवनिर्माण कामगार सेना के कार्याध्यक्ष एवं पूर्व नगरसेवक संतोष धुरी के नेतृत्व में वर्ली की सामाजिक संस्थाओं, सार्वजनिक मंडल  से जुड़े एवं सामाजिक गतिविधियों में सक्रिय लोगों ने मनसे में प्रवेश किया. इसमें दोस्ती ग्रुप के विकास सालवी, जागृति चैरिटेबल ट्रस्ट के मनोज परब, विनय शिर्के, महिला नेता दीपा फाटक का नाम शामिल है. 

वर्ली के लोग निराश हुए

सामाजिक गतिविधियों में सक्रिय सुधीर वरखडे ने कहा कि वर्ली के मतदाताओं ने शिवसेना नेता आदित्य ठाकरे को चुन कर दिया. लोगों की अपेक्षा थी कि आदित्य ठाकरे वर्ली का विकास करेंगे, क्षेत्र की समस्याओं से छुटकारा दिलाने का काम करेंगे. लेकिन कुछ ही महीनों में वर्ली के लोग निराश हुए हैं. यही कारण है कि अभी कोई चुनाव नहीं है उसके बावजूद यहां के लोगों ने राज ठाकरे की पार्टी मनसे में प्रवेश किया है. 

शिवसेना के लोगों में भी नेतृत्व से नाराजगी

 पूर्व नगरसेवक संतोष धुरी ने कहा कि जब वर्ली से आदित्य ठाकरे ने चुनाव लड़ने का निर्णय लिया उस समय तत्कालीन विधायक सुनील शिंदे को साइड किया गया, लेकिन अभी तक उन्हें किसी तरह की महत्वपूर्ण जिम्मेदारी नहीं दी गई है. वर्ली कोरोना का हॉटस्पॉट बना तब भी आदित्य ठाकरे ने क्षेत्र से दूरी बनाए रखी.इस क्षेत्र की नगरसेविका होने की वजह से महापौर किशोरी पेडणेकर अकेले ही घूम रही थीं.इससे यह साफ है कि वर्ली के लोगों में ही नहीं बल्कि शिवसेना के लोगों में भी नेतृत्व से नाराजगी है. विधानसभा चुनाव के बाद शिवसेना ने अप्रत्याशित ढंग से कांग्रेस और राष्ट्रवादी कांग्रेस की मदद से सरकार गठित की, जबकि राज ठाकरे चुनाव के पहले से ही अकेले चलो का नारा देते रहे हैं. शिवसेना के समक्ष चुनौती पेश करते हुए राज ठाकरे ने शैडो मंत्रिमंडल की भी स्थापना की.जिसकी वजह से राज्य भर में शिवसेना से नाराज लोग मनसे में शामिल हो रहे हैं.