Nana Patole gondia

  • एक माह में रिपोर्ट सौंपने का निर्देश
  • बीजेपी को घेरने की कोशिश

मुंबई. महाराष्ट्र में देवेंद्र फडणवीस सरकार के समय के निर्णयों एवं अनियमिताओं की जांच करवाकर बीजेपी को घेरने की कोशिश महाविकास आघाड़ी सरकार की तरफ से की जा रही है. इसी के तहत विधानसभा अध्यक्ष नाना पटोले ने कोंकण के नाणार में जमीन खरीदने के मामलों की जांच करने का आदेश दिया है. इस संदर्भ में अतिरिक्त जिलाधिकारी की अध्यक्षता में जांच समिति गठित की जानी है. समिति को एक माह के अंदर रिपोर्ट पेश करने का निर्देश दिया गया है. 

आरोप है कि नाणार रिफाइनरी परियोजना घोषित होने के पहले परप्रांतीय लोगों ने बड़े पैमाने पर सस्ते दामों पर जमीनें खरीदी. जमीन खरीदने वालों में गुजराती एवं राजस्थानियों की संख्या अधिक है.  परियोजना वर्ष 2017 में घोषित हुई,जबकि परप्रांतियों ने वर्ष 2016 में ही जमीनें खरीदी. बताया गया कि 15 गांवों में लगभग 3 हजार एकड़ जमीन खरीदी गई.गुरुवार को विधानसभा अध्यक्ष के यहां हुई बैठक में उद्योग एवं राजस्व विभाग के अधिकारी एवं कोंंकण रिफायनरी विरोधी संघर्ष समिति के प्रतिनिधि उपस्थित थे.