MNS leaders travel in local trains against the ban

मुंबई. महाराष्ट्र नव निर्माण सेना (मनसे) के नेताओं ने पाबंदियों को तोड़ते हुए सोमवार को लोकल ट्रेनों में सफर किया और आम लोगों के लिए भी ट्रेन सेवा शुरू करने की मांग की। ये लोकल ट्रेन सेवाएं फिलहाल सिर्फ जरूरी सेवाओं से जुड़े कर्मियों के लिए उपलब्ध हैं। राज ठाकरे नीत पार्टी लगातार मांग करती रही है कि मुंबई और उपनगरों में लोकल ट्रेन सेवाएं आम लोगों के लिए भी बहाल की जाएं और उसने इसके लिये ” सविनय कायदेभंग” (सविनय अवज्ञा) शुरू किया है।

कोविड-19 महामारी के कारण उपनगरीय ट्रेनों में फिलहाल आम लोगों को सफर की इजाजत नहीं है। मनसे के महासचिव संदीप देशपांडे ने एक वीडियो संदेश में कहा कि महाराष्ट्र सरकार ने कार्य स्थलों तक जाने के लिए आम लोगों को राज्य परिवहन की बसों में यात्रा करने की इजाजत दे दी है, लेकिन लोकल ट्रेनों में सफर करने की अनुमति नहीं दी है, जो हास्यास्पद है। उन्होंने कहा, ” हमने कई बार सरकार से आग्रह किया है कि आम लोगों को लोकल ट्रेनों में यात्रा करने की अनुमति दी जाए, क्योंकि राज्य परिवहन की बसों में सफर के दौरान उन्हें परेशानी का सामना करना पड़ता है और अधिक समय भी लगता है।”

वीडियो क्लिप में देशपांडे को पार्टी के कुछ नेताओं के साथ लोकल ट्रेन में यात्रा करते हुए देखा जा सकता है। देशपांडे ने कहा कि सरकार को लगता है कि कोरोना वायरस बसों में नहीं फैलता, लेकिन लोकल ट्रेनों में फैलता है। उन्होंने कहा, ” इसलिए हमने लोकल ट्रेनों में यात्रा करके विरोध किया।”(एजेंसी)