ganja
File Photo

  • RPF की कार्रवाई

नागपुर. रेलवे सुरक्षा बल के गश्ती दल की सूचना पर ट्रेन 02615 चेन्नई-दिल्ली जीटी एक्सप्रेस से 3 यात्रियों को 30.945 किग्रा गांजे के साथ पकड़ा गया. इसकी कुल कीमत 3,09,540 रुपए आंकी गई है. प्राप्त जानकारी के अनुसार, इस ट्रेन में बल्लारशाह स्टेशन से आरपीएफ की स्कार्टिंग पार्टी चढ़ी. ट्रेन में तलाशी के दौरान दोनों आरपीएफ जवानों को तीनों यात्रियों के बैग को देखकर शक हुआ.

तीनों के पास 4 बैग थे और क्षमता से अधिक भरे नजर आ रहे थे. शक होने पर दोनों आरपीएफ जवानों ने नागपुर कंट्रोल रूम को सूचित किया. ट्रेन दोपहर 12.20 बजे प्लेटफार्म 1 पर पहुंची. यहां पीआई आरएम मीना और एपीआई एचएल मीना पहले से ही अपने स्टॉफ के साथ मौजूद थे. ट्रेन रूकते ही तीनों यात्रियों को उतारा गया और उनके बैग में रखे सामान की जांच की गई. बैग में अच्छे से पैकिंग किये 15 पैकेट मिले जिनमें हर पैकेट का वजन लगभग 2 किलो था.

दिल्ली जा रहा था माल

पूछताछ में तीनों ने बताया कि, वे वारंगल से ट्रेन में सवार हुए है. उनके पास करीब 30 किग्रा गांजा है जो दिल्ली ले जाना था. इसके बाद 2 सरकारी पंचो एवं तहसीलदार सत्यजीत भोतमागे  के समक्ष सभी पैकेटों का वजन किया गया. इन पैकेटों में कुल 30.954 किग्रा पाया गया जिसकी कुल कीमत 3,09,540 रुपए है. इस दौरान लोहमार्ग पुलिस की टीम भी मौजूद रही. सारी जांच और कागजी कार्यवाही के बाद आरपीएफ ने सारा माल और आरोपी जीआरपी के सुपूर्द कर दिए. यह कार्रवाई वरिष्ठ मंडल सुरक्षा आयुक्त आशुतोष पाण्डेय एवं सहायक सुरक्षा आयुक्त कोटा जोजी के मार्गदर्शन में पूरी की गई.