डेढ़ वर्ष बाद खुला हत्या का राज, बेटे ने ही उतारा था मां को मौत के घाट

नागपुर. डेढ़ वर्ष पहले अजनी थाना क्षेत्र में हुई महिला की मौत के मामले में डेढ़ वर्ष बाद पुलिस ने हत्या का मामला दर्ज किया है. महिला का हत्यारा और कोई नहीं उसी का बेटा था. बताया जाता है कि बिजली बिल को लेकर दोनों के बीच विवाद हुआ था. इसी विवाद में बेटे ने देर रात मां के साथ मारपीट की. उसकी मौत हो गई. आरोपी बेटे ने हार्ट अटैक का नाटक रचाया. लेकिन छोटे भाई ने शव का पोस्टमार्टम करवा दिया. अब मां की मृत्यु का राज खुला और पुलिस ने हत्या का मामला दर्ज कर आरोपी बेटे को गिरफ्तार कर लिया. आश्चर्य की बात ये है कि एक मामले की जांच और रिपोर्ट में डेढ़ वर्ष बीत गया और अब आरोपी गिरफ्तार हुआ है. पकड़ा गया आरोपी सुजातानगर निवासी तेजलाल ब्रिजलाल बिलोने (43) बताया गया.

28 नवंबर 2019 की सुबह तेजलाल की मां सुशीला बिलोने (63) को घर में मृतावस्था में पाया गया था. पुलिस के अनुसार सुजातानगर में बिलोने परिवार का दुमंजिला मकान है. एक माले पर तेजलाल अपने परिवार के साथ रहता था. बिजली का बिल नहीं भरने के कारण 3 वर्ष पहले घर का मीटर काट दिया गया था. तब से परिवार दीया जलाकर ही काम चलाता था. 26 नवंबर 2019 को उनके घर पर मेहमान आए. मेहमान अंधेरे में कैसे रहेंगे इसीलिए सुशीला ने तेजलाल को खरी-खोटी सुनाई. इस बात से तेजलाल चिढ़ गया. उसने मां के साथ गालीगलौज की. छोटे भाई ने झगड़ा शांत कर दिया.

पोस्टमार्टम रिपोर्ट में हुआ खुलासा

28 नवंबर की रात सुशीला अपने रूम में सो रही थी. देर रात तेजलाल मां के कमरे में गया और जमकर विवाद किया. इसी दौरान उसने सुशीला के साथ मारपीट की. वह बेहोश हो गई और तेजलाल अपने कमरे में जाकर सो गया. दूसरे दिन सुबह उसने मां की मौत हार्ट अटैक से होने का नाटक किया. लेकिन छोटा भाई मां को मेडिकल अस्पताल ले गया. पोस्टमार्टम भी करवाया गया. पुलिस ने आकस्मिक मृत्यु का मामला दर्ज किया था. डॉक्टर कुछ स्पष्ट नहीं कर पाए. इसीलिए शव के अवशेषों को केमिकल एनालिसिस के लिए भेजा गया.

अब सीए की रिपोर्ट में पता चला कि सुशीला की मौत मारपीट की वजह से हुई थी. पुलिस ने जांच-पड़ताल शुरू की. तेजलाल से भी पूछताछ हुई. वह पुलिस के सवालों में घिर गया और हत्या की कबूली दी. बुधवार रात पुलिस ने तेजलाल को गिरफ्तार कर लिया. गुरुवार को उसे न्यायालय में पेश कर 7 दिसंबर तक पुलिस हिरासत ली गई. पुलिस पूरे घटनाक्रम का पता लगा रही है.