अपहरण कर युवक को जिंदा जलाने का प्रयास

  • कुख्यात अपराधी के साथ एक आरोपी गिरफ्तार

नागपुर. शांती नगर थाना अंतर्गत अपहरण कर एक युवक को पेट्रोल पंप पर जिंदा जलाने का प्रयास किये जाने का मामला सामना आया है. इस घटना से परिसर के नागरिकों में दहशत फैल गई है. साथ ही पुलिस विभाग में हडकंप मच गया है. घटना को गंभीरता से लेते हुए पुलिस ने कुख्यात आरोपी और उसके एक साथी को गिरफ्तार कर मामला दर्ज कर दिया है. आरोपी सागर यादव (25) और रजत राऊत शामिल है.

प्राप्त जानकारी के अनुसार तुलसी नगर निवासी भावेश भागवानी (20) किराना व्यापारी है. रविवार की सुबह 8 बजे भावेश मित्र त्रिलोक तोलानी (25) के साथ क्रिकेट खेलने छापरु नगर स्थित मैदान में जा रहा था. इस दौरान बीच रास्ते में कुख्यात बदमाश सागर ने भावेश को रोक लिया. इसके बाद सागर ने अपने साथी रजत राउत की मदद से दोपहिया वाहन पर भावेश को जबरन बिठाया और उसे इतवारी रेलवे स्टेशन के तरफ ले गया. भावेश को उसके मित्र मोहित देवानी को फोन लगाने के लिए धमकाया जा रहा था. इसके लिए उसके साथ मारपीट भी की गई. भावेश ने मोहित को फोन लगाया तो उसका कहना था कि वह कन्हांन में है. जिससे सागर ने भावेश को कहा कि जब तक मोहित नही आता तब तक वह उसके साथ ही रहेेंगा. इसके बाद भावेश को शांति नगर में स्थित पेट्रोल पंप पर ले जाया गया.

पंप पर उसके साथ मारपीट की. इस दौरान सागर ने पंप से पेट्रोल भरने का पाईप उठाया और भावेश पर पेट्रोल डालने का प्रयास किया. उसे पेट्रोल डालकर जिंदा जला देने की धमकी दी गई थी. आरोपियों के चंगुल से मुक्त के लिए भावेश ने अपने कुछ मित्रों को फोन लगाया,जो की सागर को जानते है. इसके बाद ही भावेश को छोड़ दिया गया. इस बीच पुलिस ने पंप पर लगे सीसीटीवी कैमरे के फुटेज बरामद कर आरोपियों के खिलाफ प्रकरण दर्ज किया. इसके तत्काल बाद सागर और रजत को गिरफ्तार किया गया.

आरोपी सागर ने कुछ दिनों पहले भावेश का मित्र मोहित को कुछ रुपए उधार दिए थे. उधारी के लिए सागर मोहित को फोन लगाता था,लेकिन वह उसका फोन नही उठाता था. मोहित से उधारी वसुलने के लिए ही आरोपियों ने भावेश का अपहरण किया था. सागर कुख्यात बदमाश है. तडीपार,एमडीए आदी की कार्रवाई उसके खिलाफ पूर्व मे हुई है. उपनिरीक्षक सुमेध बंसोडे मामले की जांच पड़ताल कर रहे है.