1 पाव शक्कर के लिए भाई-भाभी का गला रेता

  • बच्चों के सामने किया हमला

नागपुर. पाव भर शक्कर के लिए एक व्यक्ति ने अपने भाई और भाभी का उस्तरे से गर्दन रेत दी. छोटे बच्चों के सामने ही चाचा ने उनके माता-पिता का गला काट दिया. दोनों की हालत चिंताजनक बताई जा रही है. इस घटना से पूरे इलाके में हड़कंप मच गया. जख्मियों में नारी गांव निवासी रामचंद्र दाजू जिचकार (45) और उनकी पत्नी सुषमा (38) का समावेश है. पुलिस ने पड़ोसी महिला दुर्गा गागोटे की शिकायत पर आरोपी भाई राजू जिचकार (38) के खिलाफ मामला दर्ज कर गिरफ्तार कर लिया है.

स्थानीय नागरिकों के जिचकार परिवार का परिसर में सबसे पुराना मकान है. 2 कमरों में राजू और रामचंद्र रहते है. राजू अविवाहित है, जबकि रामचंद्र को 2 बेटे और 1 बेटी है. दोनों भाई नाई का काम करते है और हमेशा उनके बीच विवाद होता रहता था. सोमवार की रात रामचंद्र ने अपनी पत्नी और बच्चों के साथ भोजन किया और छत पर सोने चले गए. रात 12.30 बजे के दौरान राजू भी छत पर आया. भाई और भाभी को नींद से जगाया. दोनों पर अपने कमरे से 1 पाव शक्कर चोरी करने का आरोप लगाया.

दोनों की हालत गंभीर 
सुषमा और राम ने उसे फटकार लगाई. इसी दौरान राजू ने अपना उस्तरा निकालकर दोनों की गर्दन पर वार कर दिया. आवाज होने के कारण बच्चे भी जाग चुके थे. उनके सामने राजू ने माता-पिता पर हमला किया. दोनों के गले से खून की धार बहने लगी. किसी तरह सुषमा घर के सामने रहने वाली दुर्गा के घर पर गई. उन्हें पुलिस को फोन लगाने को कहा.

खबर मिलते ही एएसआई राजेश डोंगरे अपने दल के साथ घटनास्थल पर पहुंचे. दोनों को उपचार के लिए मेयो अस्पताल ले जाया गया. रामचंद्र को 20 और सुषमा को 25 टाके लगाए गए. दोनों की हालत चिंताजनक बताई जा रही है. इस घटना से पूरे इलाके में हड़कंप मच गया. सभी को रामचंद्र और सुषमा के बच्चों की चिंता है. मात्र 1 पाव शक्कर के लिए राजू ने अपने भाई-भाभी को बेरहमी से मारने का प्रयास किया. पुलिस मामले की जांच कर रही है.