डिप्टी सिग्नल अंडरब्रिज डिजाइन में त्रुटि – अधिकारियों के साथ खोपड़े ने किया निरीक्षण

  • 50 घर होंगे बेवजह बाधित

नागपुर. शांतिनगर-डिप्टी सिग्नल अंडरब्रिज की डिजाइन में त्रुटि होने के चलते वह किसी गली की तरह संकरा बनेगा. साथ ही 50 नागरिकों के घर भी बाधित हो रहे हैं. भाजपा विधायक कृष्णा खोपड़े ने पीडब्ल्यूडी अधिकारियों और नगरसेवकों के साथ परिसर का जायजा लिया. उन्होंने ब्रिज को किसी दूसरी खाली जगह पर ले जाने के लिए दूसरी डिजाइन तैयार करने का निर्देश दिया. साथ ही पर्यायी जगह का निरीक्षण भी किया गया.

उन्होंने कहा कि केन्द्रीय मंत्री नितिन गडकरी की सीआरएफ निधि से यह अंडरब्रिज तैयार किया जाना है. ब्रिज का डिजाइन तैयार करते समय अधिकारियों ने किसी भी जनप्रतिनिधि को विश्वास में नहीं लिया. जो डिजाइन अधिकारियों ने बनाया है उसमें 50 से भी अधिक घर बेवजह टूटेंगे. जब फडणवीस सीएम थे तब राज्य सरकार ने 2011 के पूर्व के झोपड़पट्टीवासियों को संरक्षण देकर रजिस्ट्री कर दी थी. ऐसे में उनके घर तोड़कर कोई प्रकल्प बनाना उचित नहीं है. 

जल्द होगी संयुक्त बैठक

खोपड़े ने कहा कि लोगों के घरों को न तोड़ते हुए अंडरब्रिज को खाली दूसरी जगह पर स्थानांतरित करने के लिए नई डिजाइन तैयार की जानी चाहिए. इसके लिए रेलवे, पीडब्ल्यूडी, मनपा, एनआईटी व जनप्रतिनिधियों की एक संयुक्त बैठक जल्द लेने के लिए प्रशासन को उन्होंने पत्र लिखा है. यह बैठक जल्द होगी.

इस दौरान नगरसेवक प्रदीप पोहाणे, सरिता कावरे, अनिल गेंडरे, पीडब्ल्यूडी के उप अभियंता अतुल गोटे, सेतराम सेलोकर, अजीत कौशल, भारत सारवा, लोकेश बावनकर, संजय महामल्ला, दिनेश गंगबोईर, आनंद शाहू, शैलेश नेताम, गोविंदा काटेकर, अनिल कोडापे, कमलेश शाहू, रामसत साहू, अनिकेत ठाकरे व अनेक नागरिक उपस्थित थे.