कोरोना के साथ बढ़ा मच्छरों का आतंक

  • फॉगिंग मशीन चलाने की मांग

नागपुर. ठंड के गायब होते ही इन दिनों महानगर के कई क्षेत्रों में कोरोना के साथ-साथ मच्छरों का आतंक बढ़ गया है. एक तो कोरोना के कारण लोगों को घर के अंदर बैठने की हिदायत दी जा रही है, वहीं, मच्छरों के कारण लोगों का घर में बैठना मुश्किल हो गया है. सबसे अधिक मच्छरों की फौज का सामना हुड़केश्वर, आशीर्वादनगर, मानेवाड़ा, अयोध्यानगर, नरसाड़ा, भारतनगर, सूर्यनगर, गुजराती कॉलोनी, सुभाननगर, शिक्षक कॉलोनी, शिवाननगर, नेताजीनगर, शांतिनगर, वैशालीनगर सहित अन्य स्थानों में रहने वाले नागरिकों को करना पड़ रहा है. नागरिकों ने स्वास्थ्य के प्रति चिंता जताते हुए संबंधित विभाग से फॉगिंग मशीन चलाने की मांग की है.

शाम को बढ़ता है मच्छरों का हमला

नागरिकों का कहना है कि शाम होते ही मच्छर हमला करना शुरू कर देते हैं. न ही घर के अंदर चैन से बैठने देते हैं और न ही बाहर. यहां इतने अधिक मच्छर हो गये हैं कि लोगों को कोरोना के साथ-साथ अब मलेरिया जैसी घातक बीमारी होने का डर सताने लगा है. कोरोना के साथ-साथ अब लोगों द्वारा मच्छरों से निजात पाने के लिए भी तरह-तरह के उपाय किये जा रहे हैं. बावजूद इसके किसी तरह से छुटकारा नहीं मिल पा रहा है. संबंधित विभाग को इसकी जानकारी होने के बावजूद भी वह इस ओर अनदेखी कर रहा है. नागरिकों द्वारा विभाग से यहां फॉगिंग मशीन चलाने की मांग की जा रही है.

जहरीले कीड़ों से बढ़ी परेशानी

वहीं, शहर में कई स्थानों पर खाली पड़े प्लॉटों में गंदगी की वजह से रोज ही मच्छरों की फौज तैयार होती है, जो लोगों को आराम से बैठने तक नहीं देती. साथ ही इस गंदगी के कारण रात्रि के समय सड़कों पर हमेशा सांप बिच्छू व कई जहरीले कीड़े निकलते रहते हैं, जो कि घरों के अंदर भी जाते हैं. लोग इन जहरीले कीड़ों की वजह से दहशत में हैं. परिसर के नागरिक पहले से ही इन कीड़ों की वजह से परेशान थे और अब मच्छरों ने भी इन्हें अपना निशाना बनाना शुरू कर दिया.