Minister Nitin Raut

नागपुर. पालकमंत्री नितिव राऊत ने कहा कि कोरोना से बचना ही फिलहाल उसका एकमात्र इलाज है. सहकार ने 15 सितंबर से 25 अक्टूबर तक राज्य में ‘मेरा परिवार मेरी जिम्मेदारी’ अभियान शुरू किया है. कोरोना मुक्त महाराष्ट्र के इस अभियान को हर घर से प्रतिसाद देने की अपील उन्होंने नागरिकों से की है.

उन्होंने कहा कि आज कोविड का सर्वोत्तम उपचार, कोरोना नहीं होने देना ही है. इसके लिए बिना कारण घर के बाहर ना निकलें. गरीबों व मध्यम वर्ग के रोजीरोटी का ध्यान में रखते हुए सिटी में लाकडाउन को टाला गयाहै. लेकिन भीड़ कम होना अति आवश्यक है. भीड़ के चलते बुजुर्ग व छोटे बच्चे बिना कारण कोरना बाधित हो रहे हैं. खुद के और दूसरों के जीवन को धोखे में ना डालें. उन्होंने भीड़ ना करने की अपील नागरिकों से की है.

घर-घर आएगी टीम
पालकमंत्री ने कहा कि जिला प्रशासन व मनपा के स्वास्थ्य विभाग के माध्यम से घर-घर में भेंट देने के लिए स्वास्थ टीम आएगी. उस टीम को उचित जानकारी दें. ब्लडप्रेशर, शूगर व अन्य बीमारियों की जानकारी भी दें. बुखार, खांसी, सांस लेने में दिक्कत हो या कोविड जैसे लक्षण हो तो टीम को जानकारी दें व टेस्ट करवाएं.

उन्होंने स्वास्थ्य विभाग को टीम गठित करने ओर प्रत्येक टीम को रोजाना 50 घरों की भेंट सुनिश्चित करने का निर्देश दियाहै. उन्होंने यह भी अपली की सोशल मिडिया पर उड़ने वाले अफवाहों पर ध्यान ना दें और स्वास्थ्य विभाग की टीम का सहयोग करें.