Vote Counting

  • बैलेट के चलते धीमी हुई वोटों की गिनती

नागपुर. नागपुर संभाग पदवीधर चुनाव की वोटों की गिनती सुबह 8 बजे मानकापुर विभागीय क्रीड़ा संकुल में शुरू हुई. सुबह से ही भाजपा व कांग्रेस के कार्यकर्ता वहां पहुंच गए थे. लेकिन देर शाम तक किसी भी पार्टी का कोई नेता या उम्मीदवार वहां नहीं पहुंचा. चुनाव निरीक्षक एस.वी.आर. श्रीनिवास, चुनाव निर्णय अधिकारी डॉ. संजीव कुमार के साथ सभी जिलों के 6 जिलाधिकारी व संबंधित सभी अधिकारी व कर्मचारियों ने मतगणना का कार्य शुरू किया. सबसे पहले मतपेटियों को वहां मौजूद उम्मीदवारों के प्रतिनिधियों को दिखाकर खोला गया. उसके बाद मतपत्रिकाओं के 25-25 के बंडल बनाए गए.

सभी पेटियों को खोलकर गट्ठों के एक साथ मिलाया गया. उसके बाद पोस्टल बैलेट की गिनती की गई. बताते चलें कि नागपुर संभाग में 1,32,923 मतदान हुआ जो 64.38 प्रतिशत रहा. मतगणना के लिए 28 टेबल बनाए गए जिनमें पहले राउंड में प्रत्येक टेबल पर 40 गट्ठों का समावेश किया गया. इस तरह एक राउंड में 28,000 वोटों की गिनती की गई. पहली काउंटिंग प्रथम क्रमांक के पसंदनुसार की गई. काउंटिंग की तैयारी करते-करते ही दोपहर के 3 बज गए. पहले राउंड की काउंटिंग करीब 3.30 बजे शुरू हुई.

गड़चिरोली के सांसद पहुंचे

काउंटिग के दौरान स्टेडियम परिसर में बड़ी संख्या में कांग्रेस और भाजपा के 1-2 विधानसभा क्षेत्र अध्यक्षों के साथ कार्यकर्ता ही नजर आए. दोनों ही पार्टी का कोई बड़ा नेता नहीं पहुंचा और न ही कोई उम्मीदवार ही देर शाम तक वहां आया. नेताओं का नहीं आना भी वहां चर्चा का विषय बना हुआ था. देर शाम करीब 6.30 बजे गड़चिरोली के सांसद अशोक नेते वहां पहुंचे लेकिन उन्हें भीतर नहीं जाने दिया गया. वे परिसर में कार्यकर्ताओं से मिलकर वहां से चले गए. शाम करीब 7.15 बजे जब पहले राउंड का परिणाम घोषित किया गया तो वहां जुटे हुए भाजपा कार्यकर्ता भी निकल गए क्योंकि भाजपा के संदीप जोशी पहले राउंड में कांग्रेस के अभिजीत वंजारी से 4,850 वोटों से पीछे थे. पहले राउंड के परिणाम से कांग्रेसी कार्यकर्ताओं में खुशी की लहर छा गई. वे काफी उत्साहित हो गए और कुछ ने वंजारी व कांग्रेस के समर्थन में नारेबाजी कर अपनी खुशी जताई. 

जोशी आए और चले गए

पहले राउंड के परिणाम भाजपा की उम्मीद के बिल्कुल उलट था. अब तक नागपुर विभाग पदवीधर सीट भाजपा के कब्जे में ही रही है. ऐसे में जोशी का पहले ही राउंड में पिछड़ना भाजपा खेमे में उदासी ले आया था. कार्यकर्ता वहां से लौट गए. रात करीब 8 बजे जब दूसरे राउंड की काउंटिंग जारी थी तब भाजपा उम्मीदवार संदीप जोशी वहां पहुंचे और सीधे भीतर चले गए. कुछ देर बाद वे बाहर निकले लेकिन मीडिया से बात नहीं की. अपनी गाड़ी में बैठे, अंगूठा दिखाया और वहां से चले गए. उनके चेहरे पर चिंता नजर आ रही थी. 

पुलिस का तगड़ा बंदोबस्त

विभागीय क्रीड़ा संकुल में पुलिस का तगड़ा बंदोबस्त लगाया गया था. स्वयं आलाधिकारी समय-समय पर काउंटिंग स्थल परिसर में निरीक्षण के लिए आ रहे थे. यहां आने वालों की जांच की जा रही थी. साथ ही आने वालों के लिए पार्किंग की अच्छी व्यवस्था की गई थी. केवल मीडिया कर्मियों को ही अपने मोबाइल साथ ले जाने की अनुमति थी लेकिन वे भी काउंटिंग स्थल पर मोबाइल से बात नहीं कर सकते थे.