Smart City, Nagpur

  • स्टेक होल्डर्स के साथ मनपा में हुई बैठक

नागपुर. केंद्र सरकार के स्मार्ट सिटी मिशन अंतर्गत गृहनिर्माण व शहरी विकास मंत्रालय की ओर से 2015 में अभियान शुरू किया गया. जिसमें देश के अनेक शहरों के साथ नागपुर को भी शामिल किया गया. 5 वर्षों में स्मार्ट सिटी अंतर्गत अबतक कितना विकास किया गया, इसका तो खुलासा नहीं किया जा रहा है, किंतु हमेशा की तरह बैठकों की खानापूर्ति कर जनता और जनप्रतिनिधियों के सहयोग से स्मार्ट सिटी के सपने को साकार करने का दावा किया जा रहा है.

बुधवार को मनपा में स्मार्ट सिटी स्टेक होल्डर्स इंजीनियरिंग, आर्किटेक्ट कालेज के साथ बैठक ली गई. जिसमें स्थायी समिति सभापति पींटू झलके ने शहर के विकास के लिए समाज के प्रत्येक वर्ग को साथ में आकर सहयोग की अपील भी की. स्मार्ट सिटी के प्रभारी सीईओ महेश मोरोणे भी उपस्थित थे.

डेडीकेटेड बायसिकल लेन पर मंथन

उल्लेखनीय है कि स्मार्ट सिटी कम्पनी की ओर से शहर में 18 किलोमीटर की डेडीकेटेड बायसिकल लेन तैयार करने का प्रस्ताव तैयार किया है. झलके ने कहा कि यह व्यवस्था शहरवासियों को स्वस्थ रखने में सहयोगी साबित होगी. जनता और जनप्रतिनिधियों के सहयोग से शहर का विकास अच्छी तरह किया जा सकता है. मोरोणे ने कहा कि केंद्र सरकार ने इंडिया साइकिल्स फार चेंज चैलेंज उपक्रम शुरू किया है. जिसे तीन चरणों में चलाया जाएगा. प्रथम चरण में छोटे-छोटे उपाय कर सायकलिंग को प्रोत्साहन देना है. साथ ही लोगों में वातावरण निर्मित कर दैनिक कार्य में साइकिल का उपयोग करने के लिए प्रोत्साहित किया जा रहा है. 18 किलोमीटर इस सड़क पर स्मार्ट सिटी का एक भी पैसा खर्च नहीं होगा. जबकि सीएसआर निधि से 2 करोड़ के विकास कार्य होंगे.

साइकिल कैपिटल आफ इंडिया का संकल्प

उन्होंने कहा कि शहर को साइकिल कैपिटल आफ इंडिया बनाने का संकल्प स्मार्ट सिटी द्वारा किया गया है. बर्डी को वेहिकल फ्री जोन करने के लिए प्रस्ताव तैयार किया जा रहा है. इसी तरह शहर में 10 थीम पार्क तैयार किए जाएंगे. हैपी थॉट गार्डन और आर्ट गार्डन का प्रथम चरण में समावेश होगा. इंजीनियरिंग व आर्किटेक्ट कालेज के प्रतिनिधियों को शहर के चौराहों के डिजाईन में सुधार करने की अपील की. साथ ही महाविद्यालय के माध्यम से प्रदुषणरहित वाहनों को प्रोत्साहित करने, बायसिकल क्लब शुरू करने का सुझाव भी दिया. संचालन विधि अधिकारी मनजीत नेवारे और आभार प्रदर्शन कम्पनी सेक्रेटरी भानुप्रिया ठाकुर ने किया.