नागरिकों का 50 प्रतिशत संपत्ति टैक्स माफ करें

मनसे ने शुरू किया अनिश्चितकालीन अनशन

सटाणा. शहर के नागरिकों का 50 प्रतिशत संपत्ति टैक्स माफ करने की मांग को लेकर महाराष्ट्र नवनिर्माण सेना ने मंगलवार से सटाणा नगर परिषद कार्यालय के बाहर अनिश्चितकालीन अनशन शुरू कर दिया है. पिछले माह में मनसे के शहराध्यक्ष पंकज सोनवणे, मंगेश भामरे, विद्यार्थी सेना के तहसील अध्यक्ष हर्षवर्धन सोनवणे आदि ने नगराध्यक्ष सुनील मोरे, मुख्याधिकारी हेमलता डगले को नागरिकों का टैक्स माफ करने की मांग को लेकर ज्ञापन सौंपा था.

परंतु इस बारे में कोई निर्णय नहीं लिया गया. इससे संतप्त हुए मनसे पदाधिकारियों ने मंगलवार से सटाणा नगर परिषद कार्यालय के बाहर अनिश्चितकालीन अनशन शुरू कर दिया है, जिसमें मनसे शहराध्यक्ष पंकज सोनवणे, महारसचिव मंगेश भामरे, विद्यार्थी सेना के तहसील अध्यक्ष हर्षवर्धन सोनवणे, संभाजी सोनवणे, ललित नंदाले, अंकेत बच्छाव, यश शेवाले, गणेश पवार, दादू बैताडे, पंकज मालपुरे, आदिल मुल्ला, पार्थ सोनवणे, अब्दुल बोहरी, निखिल वर्मा, दिनेश भदाणे आदि शामिल हुए है. इस बारे में प्रतिक्रिया देते हुए नगराध्यक्ष सुनील मोरे ने कहा, संपत्ति टैक्स  में छूट देने के लिए आगामी आम सभा में प्रस्ताव रखने की सूचना दी गई है. नागरिकों को राहत देने के लिए सभी पदाधिकारी सकारात्मक है.

राष्ट्रवादी कांग्रेस की नगरसेविका ने सौंपा ज्ञापन

राष्ट्रवादी कांग्रेस की नगरसेविका सुरेखा बच्छाव ने भी कोरोना की पार्श्वभूमि पर लॉक डाउन से आर्थिक नुकसान हुए संपत्ति धारकों को 50 प्रतिशत संपत्ति टैक्स माफ करने की मांग को लेकर मुख्याधिकारी हेमलता डगले को ज्ञापन सौंपा.