सांसद रत्न से भामरे सम्मानित

देश में दूसरे स्थान पर भामरे 

धुलिया. पूर्व रक्षा राज्य मंत्री तथा सत्रहवीं लोकसभा के सदस्य डॉक्टर सुभाष भामरे को संसद के प्रथम वर्ष के दौरान उनके प्रदर्शन के आधार पर विभिन्न श्रेणियों के तहत संसद रत्न पुरस्कार के लिए चुना गया है. प्राइम प्वाइंट फाउंडेशन पूर्व राष्ट्रपति स्व. ए.पी.जे. अब्दुल कलाम के सुझाव के बाद 2010 से संसद रत्न पुरस्कार के साथ लोकसभा में शीर्ष प्रदर्शन करने वाले सांसदों को सम्मानित कर किया जा रहा है. संसद रत्न पुरस्कार 2020 के लिए नामित सांसदों में लोकसभा सदस्य सुभाष रामराव भामरे को दूसरे स्थान पर सम्मानित किया गया है. राष्ट्रवादी कांग्रेस पार्टी की सुप्रिया सुले के बाद डॉक्टर सुभाष भामरे ने ही सदन में सर्वाधिक प्रश्न तथा जन सामान्य के विषयों पर चर्चा और डिबेट में हिस्सा लिया है. सांसद डॉक्टर सुभाष भामरे को संसद में बेहतरीन कामकाज के लिए सांसद रत्न अवार्ड से सम्मानित किया जाएगा. इससे डॉक्टर सुभाष भामरे भाजपा और उत्तर महाराष्ट्र के ऐसे दूसरे सम्मानित सांसद बन गए हैं.

नागरिकों ने किया अभिनंदन

भामरे ने कहा कि पूर्व राष्ट्रपति एपीजे अब्दुल कलाम आजीवन देश की बेहतरी के लिए कार्यरत रहे और आज उनके द्वारा शुरू किए गए सांसद रत्न अवार्ड से सम्मानित होना गर्व की बात है. इस पुरस्कार के चयन के लिए सांसदों को चर्चाओं में शामिल होने की संख्या, उनके पूछे गए प्रश्नों की संख्या, विधेयकों को पेश करने की संख्या, संसद में उनकी उपस्थिति और सांसद स्थानीय क्षेत्र विकास योजना के तहत फंड के इस्तेमाल पर तय किया जाता है. सांसद डॉ. सुभाष भामरे द्वारा प्राप्त पुरस्कार  योग्य व्यक्ति को दिया गया है. संपूर्ण महाराष्ट्र  और धुलिया लोकसभा क्षेत्र की जनता को डॉक्टर सुभाष भामरे पर गर्व है और उन्हें लोगों ने सराहनीय कार्य पर बधाई दी है.