नुकसान ग्रस्त खेतों का पंचनामा कर नुकसान भरपाई दें

देवला. विगत महीने में हुई अतिवृष्टि के कारण देवला तहसील के किसानों का बड़े पैमाने पर नुकसान हुआ है. देवला तहसील के किसानों का नुकसान होने के बावजूद तहसील के पश्चिम परिसर के गांव में अब तक नुकसान ग्रस्त खेत के पंचनामा करने के लिए कोई सरकारी अधिकारी नहीं आने का आरोप भाजपा के तहसील अध्यक्ष किशोर चव्हाण ने लगाया है.

अतिवृष्टि के कारण देवला तहसील में मकई, अनार, प्याज, हरी सब्जी का बड़े पैमाने पर नुकसान हुआ है. तहसील के किसानों के हजारों रुपए के पौधे बर्बाद हुए. प्याज बिज के लिए किसान कृषि दुकानदार के चक्कर लगा रहे हैं. तहसील के पश्चिम परिसर के गुंजालनगर, रामेश्वर, वाजगांव, वडाला, कणकापुर, काचणे, शेरी, वार्शी, हनुमंतपाडा, मुलुकवाडी, खर्डे, मटाणे, वरवंडी आदि गांव सहित तहसील के अधिकांश गांव में राजस्व विभाग के अधिकारी व कृषि विभाग के अधिकारी व कृषि विभाग के आधिकारी 15 दिन पूर्ण होने के बावजूद खेतों की ओर नहीं गए हैं, इसलिए तहसील प्रशासन के खिलाफ किसानों में आक्रोश फैला हुआ है. भाजपा के पदाधिकारियों ने नुकसान ग्रस्त खेतों का पंचनामा कर नुकसान भरपाई देने की मांग की है.