History can be made by the end of the year with the introduction of Covid-19 vaccine: White House
Representative Image

  • जिला प्रशासन ने शुरू की तैयारी
  • कोरोना योद्धाओं को पहले मिलेगी दवा

नाशिक. जिले में कोरोना दवा (Corona drug)  के भंडारण के लिए ग्रामीण क्षेत्र की जगह निश्चित हो सकती है। जिला प्रशासन ने दवा भंडारण को लेकर तैयारी शुरू कर दी है। कोरोना योद्धाओं को प्रथम दवाई दी जाएगी। देश में कोविड-19 संक्रमण (Covid-19 infection) की दवा टेस्ट अंतिम चरण में है।

आम नागरिकों के लिए एक से डेढ़ माह में दवाई उपलब्ध होने की संभावना व्यक्त की जा रही है। इसलिए दवाई का भंडारण करने और कोरोना पीड़ितों तक पहुंचाने के लिए नियोजन सरकार द्वारा किया जा रहा है। इस तर्ज पर जिला प्रशासन ने भी नियोजन शुरू कर दिया है। दवाई उपलब्ध होने के बाद उसका भंडारण कहां करें?

ग्रामीण भाग में तैयारियां शुरू

यह सबसे बड़ा मुद्दा है, जिसे हल करने के लिए जिला प्रशासन दवाई भंडारण के लिए ग्रामीण क्षेत्र के कोल्ड स्टोरेज का उपयोग कर सकती है, जिसे लेकर तैयार की जा रही है। जिले के लिए दवाई उपलब्ध होने के बाद सबसे पहले आरोग्य विभाग, सरकारी और निजी अस्पताल के वैद्यकीय अधिकारी, नर्सेस और कर्मचारियों को दी जाएगी। साथ ही मेडिकल संचालकों को भी देने की तैयारी आरोग्य विभाग ने की है। इसके लिए तहसील निहाय जानकारी संकलित की जा रही है।