कोरोना की आहट, पेठ शहर में सम-विषम फार्मूला लागू

पेठ. नाशिक शहर के साथ-साथ कोरोना की आहट अब ग्रामीण इलाकों में भी सुनाई देने लगी है. कोरोना के फैलाव से बचाव के लिये सावधानी बरतते हुए नगरपंचायत ने शहर के व्यवसायिकों के लिये सम-विषम फार्मूला लागू किया है. पेठ तहसील में अभी तक कोरोना का एक भी मरीज़ नहीं है. फिर भी अनलॉक 1 के बाद शहर में लोगों की भीड़ बढ़ने लगी है. शुरुवात में सभी व्यापारियों ने अपनी दुकानें खोल दी थीं जिसके कारण मंडी के इलाकों में लोगों की प्रचंड भीड़ लगने लगी थी. इसलिसे होने वाली भीड़ पर नियंत्रण बनाने के लिये नगरपंचायत प्रशासन ने सोमवार से सम-विषम तारीखों में व्यापार शुरू रखने की व्यापारियों को नोटिस दे दी है. शहर में बलसाड रोड और मुख्य मंडी के दाएं और बाएं की ओर की दुकानों को दी गई तारीखों में अपना व्यवसाय शुरू रखने के आदेश दिये गए हैं. मंगलवार 23 जून को नगरपंचायत पदाधिकारी और अधिकारियों ने शहर में घूमकर नागरिकों ने भीड़ ना करने का आह्वान किया. 

बाजारों में उमड़ रही भीड़

पेठ शहर तहसील का मुख्य मंडी का शहर है. इसलिये प्रशासन की ओर से की गई सावधानियों के बाद भी भीड़ पर काबू पाना कठिन होता जा रहा है. एक ओर की दुकानें बंद होने पर भी नागरिक उस ओर की दुकानों में भीड़ लगा रहे हैं जो खुली हुई हैं. इस कारण सावधानी बरतने में व्यापारियों को भी कठिनाई का सामना करना पड़ रहा है. इन दिनों खरीफ की बुआई के कारण पेठ की मंडियों में देहातों से आने वाले ग्राहकों की भीड़ बढ़ने लगी है. भीड़ के कारण अंदाजा लगाना कठिन होता है कि कौन बाहर से आया है और कौन स्थानीय है. पेठ शहर में पुराने बस स्टैन्ड से हुतात्मा स्मारक तक बलसाड रोड के दोनों ओर बड़ी संख्या में छोटे विक्रेता और फेरी वाले रास्तों के किनारों पर अपनी दुकानें लगाते हैं. प्रशासन ने सम-विषम फार्मूला शुरू करने के बाद फेरीवाले उलझे दिखाई दे रहे हैं. ऐसे लोग प्रशासन को भी दिग्भ्रमित कर रहे हैं.