गन्ना श्रमिकों की समस्याओं को हल करे

  • विधायक सुरेश धस ने सरकार से की मांग

शिरपुर. बीड से बीजेपी विधायक और पूर्व मंत्री सुरेश धस ने शिरपुर तहसील के गन्ना किसान मजदूरों की समस्याओं को हल करने की मांग सरकार से की है. महाराष्ट्र के गन्ना मजदूरों की समस्याओं को हल करने के लिए विधायक धस राज्यव्यापी दौरे पर हैं. सरकार गन्ना कटाई मजदूर और सुपरवाइजर को न्याय दे. इस तरह की जोरदार मांग उन्होंने प्रदेश सरकार से की है.

गोपीनाथ रावजी मुंडे साहेब ऊस तोडणी मजूर मुकादम और वाहतूक दार संघटना महाराष्ट्र राज्य व महाराष्ट्र राज्य श्रमिक ऊस तोडणी कामगार संघटना के बैनर तले शिरपुर में गंगापुर मजदूर और सुपरवाइजर का संयुक्त सम्मेलन एस. एम. पटेल ऑडिटोरिअम हॉल में आयोजित किया गया था.

मजदूर सम्मेलन का आयोजन

 सम्मेलन को संबोधित करते हुए विधायक धस ने कहा कि पूर्व मंत्री अमरीश भाई पटेल के अथक प्रयास से शिरपुर शहर शिरपुर पैटर्न पूरे भारत में विख्यात है. जिले की तहसील का शिरपुर शहर स्मार्ट सिटी बनाया गया. नगर में एक भी लाइट बंद नहीं है. हर तरफ हरित क्रांति हरियाली छाई हुई है. जिसका श्रेय और योगदान पूर्व मंत्री अमरीश भाई पटेल तथा उप नगर अध्यक्ष भूपेश भाई पटेल परिवार को जाता है.

150 फीसदी मजूदरी में करें वृद्धि

राज्य में सभी उस्ताद मुकादम संगठनों को एक साथ लाने और सभी गन्नाकटाई मजदूरों को न्याय देने की कोशिश और समस्याओं को हल करने का प्रयास किया जा रहा है. आदिवासी समुदाय की अज्ञानता का लाभ उठाकर अन्य राज्यों में उन्हें मजदूरी करने बुलाया जा रहा है. इसे प्रदेश सरकार तत्काल रोके, मजदूरी में 150% का इजाफा करे. इस तरह की मांग उन्होंने गन्ना मजदूरों और मुकदमों के सामने उठाई है. मंच पर बीड भाजपा विधायक सुरेश धस, विधायक काशीराम पावरा, उपनगराध्यक्ष भूपेश पटेल, भाजपा प्रदेश सदस्य बबनराव चौधरी, नगरसेवक तपनभाई पटेल, पंचायत समिति सभापति सत्तरसिंह पावरा, माजी नगराध्यक्ष प्रभाकरराव चव्हाण, शिरपुर शेतकरी साखर कारखाना संचालक जयवंत पाडवी, आष्टी उपनगराध्यक्ष सुनील रिडेकर, आष्टी कामगार संगठन सचिव कृष्णापंत वायबस, रमण पावरा, योगेश बादल, गुलाबराव मालचे, कैलास पावरा, अरुण धोबी, जिला परिषद सदस्य, पंचायत समिति सदस्य, भाजपा पदाधिकारी, मजदूर संगठन व मुकादम संगठन के पदाधिकारी मौजद थे.