बांग्लादेश ने भारत को हराया, पहली बार जीता Under-19 World Cup

सॉउथ अफ्रीका में चल रहे अंडर-19 वर्ल्डकप के फ़ाइनल मैच में बांलादेश ने भारत को 3 विकेट्स से हरा दिया है। यह पहली बार है जो बांग्लादेश ने अंडर-19 वर्ल्ड कप जीता है। इसके पहले बंगलदेश की टीम कभी भी

सॉउथ अफ्रीका में चल रहे अंडर-19 वर्ल्डकप के फ़ाइनल मैच में बांग्लादेश ने भारत को 3 विकेट्स से हरा दिया है। यह पहली बार है जो बांग्लादेश ने अंडर-19 वर्ल्ड कप जीता है। इसके पहले बंगलदेश की टीम कभी भी फाइनल नहीं खेली थी।

बांग्लादेश ने टॉस जीतकर भारत को बैटिंग करने के लिए आमंत्रित किया। पहले इनिंग में भारत की शुरुवात धीमी रही। भारत के सलामी बल्लेबाज यशस्वी जयसवाल ने 1 सिक्स और 8 चौकों की मदत से 121 बॉल में शानदार 88 रन बनाये। टीम का स्कोर बढ़ाने की कोशिश में शोरिल इस्लाम के ओवर में तंजीद हसन को कैच दे बैठे। इसके बाद भारतीय टीम का कोई भी बल्लेबाज नहीं चल पाया और पूरी टीम 47.2 ओवर में 177 पर ही सिमट गई। बांग्लादेश की ओर से अविशेख दास ने 3 विकेट, तंजीम हसन, शोरिल इस्लाम ने 2-2 विकेट चटकाए और रकीबुल हसन ने 1 विकेट चटकाया।

भारत की पहली इनिंग के बाद दुसरी इनिंग में बांग्लादेश की टीम बैटिंग करने उतरी। बांग्लादेश के सलामी बल्लेबाजों ने अपनी टीम को काफी अच्छी शुरुवात दी। लेकिन 60 से 70 रन्स के बीच बांग्लादेश के 4 विकेट गिर गए। भारतीय टीम ने मैच में कमबैक करते हुए और 3 विकेट चटकाए। वही दूसरी छोर पर अकबर अली मैच जितने तक जमे रहे। इसके बाद मैच के 42 वे ओवर में बारिश ने रोड़ा डाला। जिसके के कारण मैच को रोका गया। इस वक्त बांग्लादेश का स्कोर 7 विकेट के नुकसान पर 170 रन था। DLS नियम के अनुसार बांग्लादेश ने यह मैच जीत कर पहली बार अंडर-19 वर्ल्ड कप अपने नाम कर इतिहास रच दिया।

बांग्लादेश की ओर से अकबर अली ने 77 बॉल में नाबाद 43 रन बनाये। अकबर में अपनी पारी में 1 सिक्स और 4 चौके लगाए। साथ ही सलामी बल्लेबाज परवेज हुसैन ने 79 बॉल में सबसे ज्यादा 47 रन बनाये। जिसमें उन्होंने 7 चौके लगाए।

भारत की ओर से सबसे ज्यादा 4 विकेट रवि बिश्नोई ने लिए। साथ ही सुशांत मिश्रा ने 2 और यशस्वी जयसवाल 1 विकेट लिया।