केन्द्र जनता के प्रति जवाबदेह, आंकड़े उपलब्ध ना होने की बात कहना चौंकाने वाला: ममता बनर्जी

कोलकाता. पश्चिम बंगाल (West Bengal) की मुख्यमंत्री ममता बनर्जी (Mamta Banerjee) ने केन्द्र सरकार (Center Government) पर संसद के हालिया सत्र में ‘‘अधिकतर सवालों” के जवाब नहीं देने पर हमला किया और कहा कि प्रत्येक नागरिक को सूचना पाने का अधिकार है। ममता ने आज ‘सूचना तक सार्विक पहुंच पर अंतरराष्ट्रीय दिवस’ (इंटरनेशनल डे फॉर यूनिवर्सल एक्सेस टू इन्फोर्मेशन) पर ट्वीट किया कि सरकार ‘‘ लोगों के प्रति जवाबदेह और उत्तरदायी है।”

मुख्यमंत्री ने ट्वीट किया, ‘‘आज ‘सूचना तक सार्विक पहुंच पर अंतरराष्ट्रीय दिवस’ है। यह स्तब्ध करने वाला है कि हालिया संसद सत्र में भारत सरकार का किस तरह पर्दाफाश हुआ।” उन्होंने ट्वीट किया, ‘‘ अधिकतर सवालों को जवाब था, ‘आंकड़े उपलब्ध नहीं हैं’। हर नगारिक को सूचना पाने का अधिकार है। सरकार लोगों के प्रति जवाबदेह और उत्तरदायी है।”

केन्द्र सरकार ने इस महीने की शुरुआत में संसदीय सत्र में कहा था कि कई राज्यों और केन्द्र शासित प्रदेशों ने किसानों की आत्महत्या के संबंध में जानकारी मुहैया नहीं कराई है और इसलिए कृषि क्षेत्र में आत्महत्या के संबंध में राष्ट्रीय आंकड़ा ‘अपुष्ट’ है। केन्द्र सरकार ने यह भी कहा था कि लॉकडाउन के दौरान अपने पैतृक स्थान जाते समय प्रवासियों की मौत या उनके घायल होने से जुड़ा आंकड़ा भी मौजूद नहीं है। गौरतलब है कि पिछले साल 15 अक्टूबर को 74वीं संयुक्त राष्ट्र महासभा ने 28 सितम्बर को ‘इंटरनेशनल डे फॉर यूनिवर्सल एक्सेस टू इन्फोर्मेशन’ मनाने की घोषणा की थी। (एजेंसी)