उपमुख्यमंत्री अजीत पवार ने की पुणे मेट्रो में यात्रा

  • पुणे मेट्रो के लिए राज्य सरकार का पूरा समर्थन

पुणे. उपमुख्यमंत्री और जिले के पालक मंत्री अजीत पवार ने पुणे मेट्रो के काम की समीक्षा की. वे आज प्रातः 6 बजे संत तुकाराम नगर स्टेशन गए और वास्तविक कार्य का निरीक्षण किया. मेट्रो के काम के लिए राज्य सरकार अपना पूरा सहयोग देगी. मेट्रो के काम के लिए निधि की कमी नहीं होने दी जाएगी. ऐसा भरोसा पवार ने इस अवसर पर दिया. 

मेट्रो काम को मिलेगी तेजी 

उपमुख्यमंत्री अजीत पवार ने आज पुणे और पिंपरी-चिंचवड़ मेट्रो का निरीक्षण किया. इस अवसर पर महाराष्ट्र मेट्रो रेल कॉर्पोरेशन के एमडी ब्रजेश दीक्षित और वरिष्ठ मेट्रो अधिकारी इस अवसर पर उपस्थित थे. 

 मेट्रो काम का किया निरीक्षण

उपमुख्यमंत्री अजीत पवार ने संत तुकाराम नगर से पिंपरी (खरलवाड़ी) तक मेट्रो से यात्रा की. निरीक्षण यात्रा फुगेवाड़ी से सुबह लगभग 6 बजे शुरू हुई. इस समय, अजीत पवार ने मेट्रो चालक के केबिन का निरीक्षण किया और कार्य की समीक्षा की. बृजेश दीक्षित ने प्रस्तुति के माध्यम से जानकारी दी. उन्होंने सिविल कोर्ट, नलस्टॉप, लकड़ी  पूल और स्वारगेट में काम का भी निरीक्षण किया. साथ ही मेट्रो  के लिए एक नई आधुनिक टनलिंग मशीन का उद्घाटन किया. इस अवसर पर, मेट्रो की गौतम बी-हाडे और सरला कुलकर्णी ने चल रहे काम के बारे में जानकारी दी.   

पहला मेट्रो टिकट लिया 

महाविकास आघाड़ी सरकार में अजीत पवार को उप मुख्यमंत्री के पद की जिम्मेदारी मिली. इसके अलावा, अजीत पवार के पास पुणे के पालक मंत्री के पद की भी जिम्मेदारी है. अजीत पवार के पास अधिकारियों की बैठकों और विकास कार्यों के निरीक्षण का एक नियमित कार्यक्रम है. इसलिए अजीत पवार का दिन सुबह से शुरू होता है. उसी  को आज पुणे में फिर से देखा गया. जिला पालक मंत्री अजीत पवार सुबह 6 बजे पुणे मेट्रो के काम का निरीक्षण करने पहुंचे थे. अजीत पवार ने सुबह लगभग 6 बजे पुणे मेट्रो के पिंपरी-चिंचवड का दौरा किया और मेट्रो के मुख्य अधिकारी बृजेश दीक्षित के साथ बैठक की. उसके बाद अजीत पवार ने संत तुकाराम नगर में पहला मेट्रो टिकट लिया और मेट्रो से यात्रा की. अजीत पवार सुबह करीब 6 बजे फुगेवाड़ी पहुंचे थे. अजीत पवार अपनी सटीक टाइमिंग के लिए जाने जाते हैं. इसलिए अजीत पवार के आगमन के साथ मेट्रो अधिकारियों ने पहले ही काम शुरू कर दिया था.