Pune Municipal Corporation

  • 30 नवंबर तक  नागरिक ले सकते हैं लाभ

पुणे. शहर में कोरोना का प्रकोप तेजी से बढ़ता जा रहा है. शहर में अब तक लगभग 3 हजार अधिक लोग कोरोना की वजह से बलि जा चुके हैं. साथ ही कोरोना संक्रमित लोगों की तादाद भी बढ़ती जा रही है. इसे रोकने के लिए अब महापालिका प्रशासन ने कृति प्रारूप बनाया है. राज्य सरकार के निर्देशानुसार मनपा प्रशासन ने यह कदम उठाया है. इसके तहत कोविड सेंटर और फ्लू क्लिनिक बनाए है. 

महापालिका द्वारा शहर में करीब 74 फ्लू क्लिनिक बनाए गए है. इन सभी अस्पतालों में नागरिकों को मुफ्त में स्वास्थ्य के उपचार मिलेंगे. इसके लिए 31 अगस्त तक का कालावधि दिया गया था. लेकिन अब यह कालावधि 30 नवंबर तक जारी रहेगा. इससे संबंधित प्रस्ताव भी स्वास्थ्य विभाग द्वारा मंजूरी के लिए स्थायी समिति के समक्ष रखा है.  

मनपा के 74 अस्पताल

शहर में कोरोना संक्रमित लोगों की तादाद तेजी से बढ़ रही  है. शहर में हाल ही में दो दिनों में सवा लाख  से अधिक लोग कोरोना संक्रमित पाए गए है. खास तौर शहर के मध्यवर्ती इलाके में समाज संसर्ग बढ़ता जा रहा है. कोरोना की वजह से अब तक करीब 3000 से अधिक लोगों की मौत हुई है. तो लाखों  लोगों  पर उपचार चल रहा है.यानि स्थिति काफी गंभीर हो गई है. इस वजह से यह प्रकोप रोकने के लिए प्रशासन ने कृति प्रारूप बनाया है. इसके अनुसार अब मनपा के सभी यानि 74 अस्पतालों में स्वास्थ्य सुविधा मुफ्त में देने का फैसला मनपा प्रशासन ने लिया है.

स्थायी समिति के समक्ष प्रस्ताव

महापालिका प्रशासन के जानकारी के अनुसार मनपा के अस्पतालों में उपचार लेते समय नागरिको को पंजीयन करना पड़ता है. साथ ही शुल्क भरने के लिए भी कतार में खड़ा रहना पड़ता है, लेकिन इससे कोरोना का संसर्ग होने के संभावना बनी रहती है. इस वजह से पंजीयन करना और शुल्क भरना मुफ्त में किया है. प्रशासन के अनुसार यह सुविधा 30 नवंबर तक जारी रहेगी. जो पहले 31 अगस्त तक थी. यह कालावधि अब ख़त्म हुआ है. इस वजह से प्रशासन ने कालावधि बढ़ाने का निर्णय लिया है. इससे संबंधित प्रस्ताव प्रशासन द्वारा स्थायी समिति के समक्ष रखा गया है. इस पर समिति की आगामी बैठक में चर्चा होगी.