Workers not coming to work at the original place

  • 11 दिसंबर से 29 जनवरी तक की समय सीमा

पुणे. महापालिका की ओर से 10वीं व 12वीं के गुणवान विद्यार्थियों को दी जाने वाली छात्रवृत्ति (Scholarship) के लिए महापालिका की ओर से आवेदन मांगे गए हैं। आवेदन करने की समय सीमा 11 दिसंबर से 29 जनवरी की गई है। ऐसी जानकारी मनपा प्रशासन की ओर से दी गयी।

छात्रों को होगा लाभ

ज्ञात हो कि महापालिका ओर से 10वीं के छात्रों के लिए भारत रत्न मौलाना अबुल कलाम आजाद छात्रवृत्ति योजना (Bharat Ratna Maulana Abul Kalam Azad Scholarship Scheme) व 12वीं के विद्यार्थियों के लिए लोकशाहीर अण्णाभाऊ साठे छात्रवृत्ति योजना (Lokshahiir Annabhau Sathe Scholarship Scheme) मुहैया की जाती है। 10वीं के विद्यार्थियों के लिए 15 हजार तो 12वीं के विद्यार्थियों को 25 हजार की छात्रवृत्ति दी जाती है। इसके लिए खुला वर्ग व पिछड़े जाति वर्ग, ऐसे दो वर्ग किए गए हैं।

इस छात्रवृत्ति के लिए स्थानीय नागरिक होनेवाले परिवार के बच्चे पात्र होते हैं। इस छात्रवृत्ति के लिए संबंधित परिवार के पास राशन कार्ड, प्रॉपर्टी टैक्स का बिल, बिजली बिल के विगत तीन साल के कागजात होना जरूरी होता है। इस छात्रवृत्ति के लिए 11 दिसंबर से 29 जनवरी तक का समय ऑनलाइन आवेदन करने के लिए दिया गया है। प्रशासन द्वारा कहा गया कि ऑनलाइन के माध्यम से छात्र आवेदन भर सकते हैं। साथ ही इसको लेकर संबंधित क्षेत्रीय कार्यालय से भी संपर्क कर सकते है।

कोरोना के चलते देरी

महापलिका ओर से हर साल छात्रवृत्ति के लिए हर साल सितम्बर माह के आवेदन मांगे जाते हैं। लेकिन मार्च माह से कोरोना आने से पूरा नियोजन बिगड़ गया था। साथ ही महापालिका के कर्मियों को भी कोरोना का काम दिया गया था। इसके चलते प्रशसकीय सभी काम ठप हुआ था। हाल ही में कोरोना का कहर कम हुआ है। लेकिन इस बीच स्नातक और शिक्षा निर्वाचन क्षेत्र के चुनाव की आचार संहिता थी। इस वजह से महापालिका प्रशासन कोई काम नहीं कर पा रही थी। इस वजह से आवेदन मांगने में देरी हुई है। आवेदन आने के बाद पात्र छात्रों के बैंक अकाउंट में तत्काल राशि जमा की जाएगी।

मनपा के छात्रों को जल्द मिलेगी छात्रवृत्ति

इस बीच महापालिका की ओर से यह योजना छोड़कर और एक योजना मुहैया की जाती है, जो सिर्फ महापालिका स्कूलों के विद्यार्थियों के लिए होती है। शारदाबाई पवार छात्रवृत्ति के नाम से 10वीं व 12वीं केविद्यार्थियों को यह छत्रवृत्ति दी जाती है। इसके तहत विद्यार्थियों को 51 हजार की राशि दी जाती है। महापालिका ने इसकी प्रक्रिया पूरी कर ली है। कुल 230 छात्र इसके लिए पात्र हुए हैं। इसके लिए महापालिका को 1 करोड़ 7 लाख की लागत आएगी। जल्द ही एक कार्यक्रम लेकर इसका वितरण किया जाएगा। ऐसा महापालिका प्रशासन द्वारा कहा गया।